Saturday, October 16, 2021

कश्मीर में शून्य से नीचे पारा, उत्तर प्रदेश में भी लुढ़का पारा

उत्तर भारत के अधिकतर इलाकों में अब कंपाने वाली ठंड पड़नी शुरू हो गई है. देश की राजधानी दिल्ली और आस-पास के राज्यों में तापमान में गिरावट आ रही है. वहीं, जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर समेत घाटी के कई इलाकों में न्यूनतम पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है. इस बीच मौसम विभाग ने तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश के अधिकतर इलाकों में बारिश का अलर्ट जारी किया है.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज को न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम 6.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है. जो पिछले 17 साल में नवंबर के महीने में सबसे कम तापमान है. भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक दिल्ली में रविवार को न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 24.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो इस महीने का सबसे कम तापमान था.

यह भी पढ़ें :   ब्लैक फंगस ने पहले किया ज़िंदगी में अँधेरा और फिर छीन ली साँसें !

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव के अनुसार सफदरजंग वेधशाला ने न्यूनतम तापमान 6.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो नवंबर महीने में 2003 में दर्ज किया गया था. उस दौरान 6.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था. मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में इस हफ्ते के अंत तक 7 डिग्री तक तापमान रह सकता है.

यह भी पढ़ें :   टोक्यो में क्वाड देशों की बैठक, चीन से निपटने की रणनीति पर चर्चा !

मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में शीत लहर के बीच बुधवार को भारी बारिश और बर्फबारी होने का अनुमान जताया है. हिमाचल के लाहौल-स्पीति जिले का केलॉन्ग राज्य का सबसे ठंडा स्थान है, जहां तापमान शून्य से 6.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है जबकि कुफरी का तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस तथा डलहौजी का 3.6 डिग्री सेल्सियस रहा. शिमला में तापमान 5.1 डिग्री सेल्सियस है. राज्य में सबसे अधिक 23.2 डिग्री सेल्सियस तापमान उना का रहा.

यह भी पढ़ें :   हुक्के के शौकीनों के लिए बुरी खबर, कोरोना के चलते लगा BAN !

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर समेत घाटी के कई इलाकों में न्यूनतम पारा रविवार को शून्य से नीचे पहुंच गया है. मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर का तापमान शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. बता दें कि पहाड़ी इलाकों पर बर्फबारी होने की वजह से मैदानी इलाकों में शीत लहर बढ़ रही है. जम्मू-कश्मीर के पीर पंजाल पर्वतरेंज में हुई बर्फबारी की वजह से मुगल रोड को बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें :   शहीदी दिवस पर वीरों को किसानों की श्रद्धांजलि, केसरी पगड़ी के साथ किया नमन

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   शहीदी दिवस पर वीरों को किसानों की श्रद्धांजलि, केसरी पगड़ी के साथ किया नमन

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...