Friday, September 17, 2021

लेह हिल काउंसिल की 26 सीटों के चुनाव, कल पड़ेंगे वोट

बर्फीले रेगिस्तान लद्दाख के लेह जिले के दुर्गम इलाकों में शून्य से 25 डिग्री कम तापमान में खून जमा देने वाली ठंड के बीच लोकतंत्र के प्रहरियों ने डेरा जमा लिया है। वीरवार, 22 अक्टूबर को लेह हिल काउंसिल के लिए होने जा रहे मतदान से दो दिन पहले मंगलवार को दो पोलिंग पार्टियां वायुसेना के हेलीकॉप्टर से चांगथांग के ऐसे दो मतदान केंद्रों पर पहुंच गई, जहां सड़क मार्ग से पहुंचना संभव नहीं है।

वहीं, 14 अन्य पोलिंग पार्टियां इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीने लेकर पूरा दिन सड़क से सफर कर रात को चीन से सटी वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के चांगथांग के साथ नोब्रा व स्कूमारखा इलाके में मतदान केंद्रों के करीब पहुंचीं। नोब्रा व चांगथांग के पांच-पांच व स्कूमारखा के चार मतदान केंद्रों पर सुरक्षाकर्मी भी मुस्तैद हो गए हैं।

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के लेह जिले में छठी हिल काउंसिल के गठन के लिए मंगलवार शाम के चार बजते ही प्रचार खत्म हो गया। अब करीब नब्बे हजार लद्दाखी 22 अक्टूबर को काउंसिल की 26 सीटों के लिए मैदान में उतरे 94 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। परिणाम 26 अक्टूबर को आएगा। बुधवार को नेता केवल डोर-टू-डोर प्रचार कर वोट मांगेंगे।

यह भी पढ़ें :   रेत माफिया ने सो रहे कर्मचारियों को जिंदा जलाने की कोशिश, लगाई तम्बू में आग

दूरदराज इलाकों में जा रही पोलिंग पार्टियों को जिला मुख्यालय से चुनाव सामग्री दे दी गई। वहीं 278 पोलिंग पार्टियां चुनाव से एक दिन पहले बुधवार को अपने मतदान केंद्रों में डेरा डालेंगी। सुबह लेह के तकनीकी एयरपोर्ट से पोलिंग पार्टियों को वायुसेना के एमआइ 17 हेलीकॉप्टर से भेजते समय लेह के डिप्टी कमिश्नर व हिल काउंसिल के चुनाव प्रभारी सचिन कुमार व एएसपी ओम प्रकाश पांडे भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें :   आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

लेह के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर सोनम चोसजोर ने बताया कि चुनाव के लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं। लेह के गैक व नोब्रा के वाशी मतदान केंद्रों में मतदाताओं की संख्या दस से भी कम है। वहीं, श्यनाम मतदान केंद्र में 1300 से अधिक मतदाता हैं। लेह हिल काउंसिल के गठन के लिए पहली बार लेह के निवासी इलेक्ट्रानिक वो¨टग मशीनों का इस्तेमाल करने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :   1 जनवरी तक पंजाब को नाईट कर्फ्यू से नहीं राहत, सीएम ने दिए सख्त आदेश

लेह में चीन से लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा से सटे चांगथांग के अनले फो इलाके में 15 हजार फीट की ऊंचाई पर देश का सबसे ऊंचा मतदान केंद्र बनाया गया है। यहां पोलिंग स्टाफ हेलीकॉप्टर से पहुंचा। यहां वोट डालने वाले मतदाताओं की संख्या करीब 80 है। इस मतदान केंद्र में मतदाता शून्य से 25 डिग्री कम तामपान में कुछ किलोमीटर पैदल चलकर वोट डालने के लिए आएंगे।

इस बार मुख्य मुकाबला भाजपा व कांग्रेस के बीच है। दोनों पार्टियों ने सभी सीटों पर 26-26 उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं। वहीं पहली बार लद्दाख में चुनाव लड़ रही आम आमदी पार्टी ने 19 उम्मीदवार खड़े किए हैं। भाजपा लगातार दूसरी बार जीतने का लक्ष्य लेकर मैदान में है। भाजपा ने वर्ष 2015 में शानदार प्रदर्शन कर कांग्रेस को करारी मात दी थी। उसने 26 में से 18 सीटें जीतकर पहली बार अपनी काउंसिल बनाई थी। जीत बरकरार रखने के लिए भाजपा ने पहली बार लेह में बड़े पैमाने पर अपने स्टार प्रचारक लाए। इनमें वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर, अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, खेल राज्यमंत्री किरण रिजिजू, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी, भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री व सांसद अरुण शामिल रहे। इन दौरों का उद्देश्य मोदी सरकार के तेज विकास को लोगों के बीच ले जाना था।

यह भी पढ़ें :   Humanitarian action award से नवाज़े गए सोनू सूद

Latest news

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...
यह भी पढ़ें :   50 फीसदी सीटों की बुकिंग के साथ 15 अक्टूबर को खुलेंगे सिनेमा हाल

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...

Related news

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...