Saturday, October 16, 2021

UP : 10 राज्यसभा सीटों पर निर्विरोध चुनाव तय, BSP सीट पर राम जी गौतम का नाम तय

उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 10 सीटों को लेकर होने वाले चुनाव को लेकर स्थिति साफ हो चुकी है. विधानसभा में रिटर्निंग अधिकारी की जांच प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के प्रत्याशी राम जी गौतम के नामांकन पर फैसला आ चुका है. उनके नामांकन में कोई खामी नहीं पाई गई है. वह बसपा के प्रत्याशी बने रहेंगे.

वहीं यूपी राज्यसभा चुनाव को लेकर बसपा के पांच विधायकों की बगावत बेकार हो चुकी है. समाजवादी पार्टी (सपा) के समर्थन से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज हो चुका है. माना जा रहा था कि प्रकाश बजाज की वजह से ही बसपा के अंदर बगावत हुई थी. लेकिन उनका पर्चा खारिज होने के बाद बसपा के बागी विधायकों की बगावत बेकार हो चुकी है.

यह भी पढ़ें :   भारत में बढ़ते कोरोना मामलों पर अमेरिका ने जताई चिंता

प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज होने के बाद राज्यसभा के लिए 10 सीटों पर उम्मीदवारों का निर्विरोध चुना जाना तय है. अब 8 बीजेपी, एक सपा और एक बसपा का राज्यसभा सदस्य चुना जाना लगभग तय है.

यह भी पढ़ें :   अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले शुरू हुई ट्रंप और बिडेन के बीच जंग

वहीं पर्चा खारिज होने पर प्रकाश बजाज गुरुवार को हाई कोर्ट में अपील दायर करेंगे. अगर उन्हें कोर्ट से राहत नहीं मिली तो सभी 10 उम्मीदवार निर्विरोध चुन लिए जाएंगे जिसमें एक बसपा और एक सपा को सीट मिलेगी.

यह भी पढ़ें :   कल से जाम होगा हाईवे, किसान नेताओं के घर के सामने करेंगे किसान प्रदर्शन

इससे पहले, राज्यसभा के लिए हो चुनाव में बसपा प्रत्याशी रामजी गौतम के दस प्रस्तावकों में से 5 ने अपना प्रस्ताव वापस ले लिया था. बसपा के असलम चौधरी, असलम राईनी, मुज्तबा सिद्दिकी, हाकम लाल बिंद, गोविंद जाटव ने अपना प्रस्ताव वापस ले लिया था. इसके बाद बागी विधायकों में सुषमा पटेल और वंदना सिंह का भी नाम जुड़ गया था.

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...
यह भी पढ़ें :   हिमाचल में कोरोना के 1 साल पूरे, अभी भी खतरा टला नहीं !

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...
यह भी पढ़ें :   किसान आंदोलन : तीन राज्यों को छोड़कर पूरे देश में कल 3 घंटे चक्का जाम

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...