Tuesday, August 16, 2022

आज से देश में अनलॉक 5.0 हुआ लागू, जानें क्या-क्या मिली छूट

कोरोना संक्रमण के बीच देश में आज से अनलॉक 5.0 शुरू हो गया है। बुधवार को अनलॉक-5.0 के दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए। त्योहारों के सीजन को देखते हुए सरकार ने अनलॉक-5.0 में छूट बढ़ा दी है। इसके तहत सरकार ने सिनेमा हॉल, एंटरटेनमेंट पार्क, स्विमिंग पूल को 15 अक्तूबर से खोलने की अनुमति दे दी है। हालांकि, सिनेमा हॉल को 50 फीसदी क्षमता के साथ ही खोलने की इजाजत दी गई है। इसके लिए अलग से सूचना-प्रसारण मंत्रालय द्वारा एसओपी जारी की जाएगी।

गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार, स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को खोलने को लेकर 15 अक्तूबर के बाद राज्य सरकारें अपने हिसाब से फैसला कर सकेंगी। हालांकि, इस दौरान माता-पिता की सहमति की जरूरत होगी। अक्तूबर से नवंबर तक होने वाले भारतीय त्योहार जैसे की नवरात्रि, दशहरा, दीपावली के लिए केंद्र सरकार ने मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) में इस बात का खास ध्यान रखा है कि लोग कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों के साथ त्यौहारों को भी हर्षोल्लास से मना सकें।

यह भी पढ़ें :   Unlock 5 की Guidelines का सबको बेसब्री से इंतज़ार, बढ़ी लोगों की उम्मीदें

अनलॉक 5.0 में इन पर छूट :

केंद्र सरकार ने 15 अक्तूबर से सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स खोलने की मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही खिलाड़ियों की ट्रेनिंग के लिए स्विमिंग पूल भी खोले जा सकेंगे।

अनलॉक 5.0 की गाइडलाइन में केंद्र सरकार ने 50 फीसदी लोगों के साथ एंटरटेनमेंट पार्क को खोलने की भी मंजूरी दे दी है।

केंद्र ने स्कूल और कोचिंग संस्थानों को फिर से खोलने के लिए राज्य सरकार को 15 अक्तूबर के बाद निर्णय लेने की छूट दी है। हालांकि स्कूल और कोचिंग सेंटरों को दोबारा खोलने से पहले अभिभावकों की मंजूरी लेना आवश्यक है।

यह भी पढ़ें :   Unlock 5.0 : अब Sunday के साथ Night Curfew की भी नहीं Tension

अनलॉक-5.0 में केंद्र सरकार ने कंटेनमेंट जोन में जारी सख्त लॉकडाउन 31 अक्तूबर तक बढ़ा दिया है।

उच्च शिक्षा संस्थानों में केवल पीएचडी और विज्ञान और प्रौद्योगिकी स्ट्रीम में स्नातकोत्तर छात्रों के लिए प्रयोगशाला और प्रयोगात्मक कार्यों की अनुमति होगी। जिन्हें 15 अक्तूबर से खोलने की इजाजत दी गई है।

यह भी पढ़ें :   नीरा पर व्‍हाइट हाउस के एक फैसले से गदगद हुआ पाकिस्‍तान और चीन

केंद्र की ओर से कहा गया है कि ऑनलाइन और दूरस्थ शिक्षा अब भी ऑप्शनल बना रहेगा। जहां स्कूल ऑनलाइन कक्षाएं संचालित हो रही हैं, वो जारी रहेगी। कुछ छात्र फिजिकल रूप से उपस्थित होने के बजाय ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेना पसंद करते हैं, उन्हें ऐसा करने की अनुमति दी जा सकती है।

सामाजिक, शैक्षणिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक, राजनीतिक और अन्य कार्यक्रमों में सिर्फ 100 लोगों के शामिल होने की इजाजत होगी।

कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोगों के इन कार्यक्रमों में शामिल होने पर सख्त पाबंदी रहेगी।

बिजनेस टू बिजनेस एक्जिबिशन को भी गृह मंत्रालय ने दिशानिर्देशों के साथ मंजूरी दे दी है।

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन को 31 अक्तूबर तक बढ़ा दिया गया है। हालांकि

पांच अक्तूबर से होटल, रेस्टोरेंट, फूड कोर्ट और बार 50 फीसदी क्षमता के साथ खोले जा सकेंगे।

यह भी पढ़ें :   कोरोना की चपेट में क्रिकेट के 'भगवान', खुद को किया होम क्वारंटीन

स्कूलों के लिए दिशा-निर्देश
केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा जारी एसओपी के आधार पर स्कूलों और संस्थानों को फिर से खोलने के लिए राज्य और केंद्र शासित प्रदेश स्वास्थ्य और सुरक्षा सावधानियों के बारे में अपनी एसओपी तैयार करेंगे। जिन स्कूलों को खोलने की अनुमति दी जाती है, उन्हें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षा विभागों द्वारा जारी की जाने वाली एसओपी का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा।

यह भी पढ़ें :   नए साल में भी कम नहीं कोरोना के मामले, 44 फीसदी केस केरल-महाराष्ट्र से

मंत्रालय ने कहा कि निरूद्ध क्षेत्रों में 31 अक्टूबर तक लॉकडाउन सख्ती के साथ लागू रहेगा। गृह मंत्रालय ने दोहराया कि राज्य केंद्र सरकार से चर्चा के बिना निरूद्ध क्षेत्रों के बाहर कोई स्थानीय लॉकडाउन लागू नहीं करेंगे। कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन लगाये जाने की घोषणा की थी और इसे चरणबद्ध तरीके से 31 मई तक बढ़ाया गया था।

Latest news

प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया महिलाओं का सशक्तिकरण: जय राम ठाकुर

प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की...

स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस द्वारा सरकारी मिडल स्कूल गोचर का दौरा

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी शिक्षा संस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कार्य किए...

भगवंत मान सरकार राज्य के लोगों को पीने वाला साफ़-सुथरा पानी और साफ़-सफ़ाई की सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार लोगों को साफ़-सुथरा पीने वाला पानी और सेनिटेशन की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध...
यह भी पढ़ें :   साइक्लोन यास से बंगाल से लेकर बिहार-यूपी तक पानी-पानी

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

Related news

प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया महिलाओं का सशक्तिकरण: जय राम ठाकुर

प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की...

स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस द्वारा सरकारी मिडल स्कूल गोचर का दौरा

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी शिक्षा संस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कार्य किए...

भगवंत मान सरकार राज्य के लोगों को पीने वाला साफ़-सुथरा पानी और साफ़-सफ़ाई की सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार लोगों को साफ़-सुथरा पीने वाला पानी और सेनिटेशन की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध...

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...