Saturday, October 16, 2021

IPL 2020 : डबल सुपर ओवर के बाद KXIP के सामने DC की चुनौती

आईपीएल के 13वें सीजन का 38वां मैच किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स के बीच शाम 7.30 बजे से दुबई में खेला जाएगा। रविवार को आईपीएल के इतिहास का इकलौता डबल सुपर ओवर जीतकर आ रही पंजाब की टीम दिल्ली के खिलाफ जीत दर्ज कर टूर्नामेंट में अपनी उम्मीदें कायम रखना चाहेगी। वहीं, दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर इस मैच को जीतकर प्ले-ऑफ में जगह पक्की करना चाहेंगे।

आईपीएल में 8 जीत यानि 16 पॉइंट के साथ प्ले-ऑफ में टीम की जगह लगभग तय मानी जाती है। दिल्ली ने सीजन में अब तक 9 में से 7 मैच जीतकर 14 पॉइंट के साथ फिलहाल वह टेबल में टॉप पर है। वहीं, पंजाब 9 में से 3 मैच जीतकर 7वें नंबर पर काबिज है।

यह भी पढ़ें :   IPL 2020 : पर्पल कैप पर रबाडा का दबदबा बरकरार, 23 विकेट किये नाम

सीजन का पहला सुपर ओवर दिल्ली-पंजाब के बीच ही खेला गया था। रबाडा की शानदार गेंदबाजी की बदौलत दिल्ली ने पंजाब को हराया था। दुबई में खेले गए मैच में दोनों ही टीमों ने 157 रन बनाए थे। बाद में मैच का फैसला सुपर ओवर में निकला था।

पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल और साथी ओपनर मयंक अग्रवाल लीग में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। राहुल (525) सीजन में 500 से ज्यादा रन बनाने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं। वहीं, मयंक 393 रन बनाकर लिस्ट में दूसरे स्थान पर हैं। पंजाब के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और रवि बिश्नोई शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। शमी ने सीजन में अब तक 14 विकेट लिए हैं। वहीं, रवि बिश्नोई ने अब तक 9 बल्लेबाजों को आउट किया है।

यह भी पढ़ें :   लम्बे समय बाद सड़कों पर आये सिद्धू तो उड़ी Covid-19 की धज्जियां
यह भी पढ़ें :   IPL 2020 : आज होगा चेन्नई vs दिल्ली का मुकाबला

दिल्ली के ओपनर शिखर धवन ने अपनी टीम के लिए सबसे ज्यादा 359 रन बनाए हैं। धवन के बाद कप्तान श्रेयस अय्यर का नंबर आता है। अय्यर ने सीजन में अब तक 321 रन बनाए हैं।

पर्पल कैप की रेस में दिल्ली के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा काफी आगे दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने सीजन में सबसे ज्यादा 19 विकेट अपने नाम किए हैं। इसके बाद दिल्ली के लिए एनरिच नोर्तजे ने 12 बल्लेबाजों को आउट किया है।

यह भी पढ़ें :   विदेशों में चमक रहा शुभमन के नाम का सितारा, अब ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज ने की तारीफ

आईपीएल में पंजाब का सक्सेस रेट दिल्ली से ज्यादा है। दिल्ली ने अब तक कुल 186 मैच खेले हैं। 84 मैच में उसे जीत मिली और 100 में उसे हार का सामना करना पड़ा। 2 मैच बेनतीजा रहे। दिल्ली का लीग में सक्सेस रेट 45.38% है। वहीं, पंजाब ने अब तक कुल 185 मैच खेले हैं। 85 में उसे जीत मिली और 100 में उसे हार का सामना करना पड़ा। पंजाब का लीग में सक्सेस रेट 45.40% है।

यह भी पढ़ें :   मोहाली कोर्ट में पेश हुए पूर्व डीजीपी, गिरफ्तारी वारंट वापस लेने की दी अर्जी

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 20.66 लाख नमूनों की जांच

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...