Monday, November 28, 2022

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों में भी सबसे लंबा चंद्र ग्रहण दिखाई देगा। 2021 का यह आखिरी चंद्र ग्रहण 580 सालों बाद सबसे लंबा चंद्र ग्रहण बताया जा रहा है। यह आंशिक चंद्रग्रहण होगा और 15वीं सदी के बाद सबसे लंबा चंद्र ग्रहण होगा। इतना लंबा चंद्र ग्रहण होने के पीछे खगोलविदों का मानना है कि धरती से चंद्रमा की दूरी ज्‍यादा होने के कारण 19 नवंबर को लगने वाले चंद्र ग्रहण की अवधि ज्‍यादा रहेगी।

यह भी पढ़ें :   जंतर-मंतर पर किसानों के प्रदर्शन को मिला केजरीवाल का समर्थन

आंशिक चंद्र ग्रहण हिंदू कैलेडंर की तिथि के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा के शुक्ल पक्ष (19 नवंबर) को दोपहर 12 बजकर 48 मिनट से शुरू होकर शाम 4 बजकर 17 मिनट तक रहेगा। अधिकतम आंशिक चंद्र ग्रहण दोपहर 2.34 बजे दिखाई देगा क्योंकि चंद्रमा का 97 फीसदी हिस्सा पृथ्वी की छाया से ढका रहेगा। यह चंद्र ग्रहण भारत में मणिपुर के इंफाल और आसपास के क्षेत्रों में कुछ समय के लिए दिखेगा। असम, अरुणाचल प्रदेश के क्षेत्रों में भी ग्रहण नजर आएगा।

यह भी पढ़ें :   गणतंत्र दिवस से पहले फुल ड्रेस रिहर्सल, ट्रैफिक डायवर्जन को लेकर एडवाइजरी जारी
यह भी पढ़ें :   कृषि कानून को लेकर केजरीवाल ने उठाये कैप्टन पर गंभीर सवाल

पिछले साल की तरह ही कार्तिक पूर्णिमा पर आंशिक चंद्र ग्रहण पड़ रहा है। यह एक शुभ दिन है जहां भक्त गंगा के पवित्र जल में डुबकी लगाते हैं और भगवान विष्णु की पूजा करते हैं। भारत से दिखाई देने वाला अगला चंद्रग्रहण नवंबर 2022 में होगा।

Latest news

बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए नहीं छोड़ी जाएगी कोई कमी: डा. बलजीत कौर

सामाजिक सुरक्षा और महिला व बाल विकास मंत्री पंजाब डा. बलजीत कौर ने कहा कि विभाग की ओर से बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण...
यह भी पढ़ें :   मुख्यमंत्री द्वारा नई दिल्ली हवाई अड्डे तक सुपर लग्जरी बसें शुरू करने का ऐलान

मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में गन कल्चर पर सख़्ती से नकेल कसने के निर्देश

गन कल्चर पर रोक लगाने और राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को कायम रखने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब...

जी-20 नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए बाली की यात्रा से पहले प्रधानमंत्री का प्रस्थान वक्तव्य

इंडोनेशिया की अध्यक्षता में होने वाले 17वें जी20 नेताओं के शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए मैं 14-16 नवंबर 2022 को बाली, इंडोनेशिया...

ईंटों के भठ्ठों के लिए ईंधन के रूप में पराली को 20 प्रतिशत इस्तेमाल करने को किया अनिवार्य

धान की पराली के प्रबंधन में निरंतर प्रयास कर रही राज्य सरकार द्वारा इस दिशा में अहम कदम उठाते हुए राज्य भर में ईंटों...

Related news

बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए नहीं छोड़ी जाएगी कोई कमी: डा. बलजीत कौर

सामाजिक सुरक्षा और महिला व बाल विकास मंत्री पंजाब डा. बलजीत कौर ने कहा कि विभाग की ओर से बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण...
यह भी पढ़ें :   विजय हजारे टूर्नामेंट की जल्द हो सकती है शुरुआत, मेजबानी के लिए तैयार शहर

मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में गन कल्चर पर सख़्ती से नकेल कसने के निर्देश

गन कल्चर पर रोक लगाने और राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को कायम रखने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब...

जी-20 नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए बाली की यात्रा से पहले प्रधानमंत्री का प्रस्थान वक्तव्य

इंडोनेशिया की अध्यक्षता में होने वाले 17वें जी20 नेताओं के शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए मैं 14-16 नवंबर 2022 को बाली, इंडोनेशिया...

ईंटों के भठ्ठों के लिए ईंधन के रूप में पराली को 20 प्रतिशत इस्तेमाल करने को किया अनिवार्य

धान की पराली के प्रबंधन में निरंतर प्रयास कर रही राज्य सरकार द्वारा इस दिशा में अहम कदम उठाते हुए राज्य भर में ईंटों...