Saturday, October 16, 2021

आतंकी हमले की आशंका को लेकर देशभर में अलर्ट, इजरायली दूतावास ने बढ़ाई सख्ती

सितंबर में होने वाली ज्यूइश होलिडे के पूर्व भारतीय खुफ‍िया एजेंसियों ने देशभर में आतंकी वारदात की आशंका व्‍यक्‍त की है। इसके चलते देशभर में हाईअलर्ट जारी किया गया है। यहूदी नागरिकों की सुरक्षा के मद्देनजर सभी राज्‍यों के पुलिस प्रमुखों को अलर्ट रहने की चेतावनी जारी की गई है। समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक इस चेतावनी में स्पष्ट रूप से उल्लेख किया गया है कि आतंकी संगठन इजरायली नागरिकों को निशाना बना सकते हैं। खास बात यह है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान के सत्‍ता ग्रहण करने के पूर्व भारत में यह चेतावनी जारी की गई है। भारत यह आशंका जता चुका है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान प्रभुत्‍व के बाद देश में आतंकी वारदात में इजाफा हो सकता है।

यह भी पढ़ें :   अमेरिका के राष्ट्रपति भारत-चीन के बीच जल्द सीमा विवाद सुलझने की जताई उम्मीद

बता दें कि देशभर में छह सितंबर से ज्यूइश होलिडे की छुट्टियां शुरू होंगी। खुफ‍िया जानकारी के अनुसार आतंकवादी संगठन इजरायली नागरिकों या यहूदी नागरिकों को निशाना बना सकते हैं। इस चेतावनी में आगे कहा गया है कि आतंकवादी समूह यहूदियों के धार्मिक स्‍थलों को भी अपना निशाना बना सकते हैं। एक शीर्ष अधिकारी के अनुसार उन्‍होंने दिल्‍ली पुलिस को हाई अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है। एहतियात के तौर पर इजरायली दूतावास, वाणिज्‍य दूतावास और उनके कर्मचारियों के आवास के साथ यहूदी सामुदायिक केंद्र की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

यह भी पढ़ें :   शरद पवार ने कृषि कानून पर सरकार को दी पुनर्विचार की सलाह
यह भी पढ़ें :   ICC Test Ranking में दिग्गजों को पीछे छोड़ केन विलियमसन फिर से शीर्ष पर

अधिकारी ने कहा कि देश के विभिन्‍न सुरक्षा बलों के साथ यह चेतावनी साझा की गई है। उन्‍होंने कहा कि यदि आवश्‍यक हुआ तो देश के महत्‍वपूर्ण प्रतिष्‍ठानों की सुरक्षा भी बढ़ाई जा सकती है। अधिकारी ने कहा कि 29 जनवरी को नई दिल्‍ली स्थित इजरायली दूतावास के समीप एक कम तीव्रता वाला विस्‍फोट हुआ था। इसको इस कड़ी के साथ जोड़ कर देखा जा रहा है।

बता दें कि पिछले महीने इजरायली दूतावास के पास हुए धमाके की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कर रही है। पहले इस मामले की जांच दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा द्वारा आईईडी विस्फोट से संबंधित आरोपों के तहत की जा रही थी। गृह मंत्रालय ने इस साल 2 फरवरी को यह मामला एनआईए को सौंपा था।

यह भी पढ़ें :   संयुक्त राष्ट्र में भारत का पाक पर निशाना, कहा- आतंकवाद को उचित ना ठहराया जाए

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   भारत में दुनिया का सबसे खतरनाक कोरोना वेरिएंटः एक्सपर्ट्स

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...