Tuesday, August 9, 2022

सुशांत केस : अभी भी चल रही सीबीआई की जांच, जल्द बड़े खुलासे की उम्मीद

सुशांत सिंह राजपूत को दुनिया से गए महीनों गुजर चुके हैं और आज भी उनके फैंस उन्हें न्याय मिलने का इंतजार कर रहे हैं. सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टीगेशन यानी सीबीआई कई महीनों से सुशांत की मौत के केस की जांच में लगी हुई है. ऐसे में अब सूत्रों ने खुलासा किया है कि सीबीआई अपनी जांच के आखिरी पड़ाव पर पहुंच गई है और जल्द ही सुशांत की मौत के असली कारण का खुलासा कर सकती हैं.

जब से सीबीआई ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के केस को अपने हाथों में लिया है तब से उन्होंने कई पहलुओं की जांच की है. सीबीआई ने इस केस से जुड़े सभी चश्मदीदों से पूछताछ कर मामले को समझा है और ये पता लगाने की कोशिश की है कि एक्टर की मौत सुसाइड की वजह से हुई या फिर उनका खून हुआ था. हाल ही में सीबीआई की तरफ से कहा गया था कि इस मामले में एजेंसी बहुत ही गहराई से जांच कर रही हैं.

यह भी पढ़ें :   हाथरस कांडः सीबीआई ने तेज की जांच, परिवारजनों से की पूछताछ

बता दें कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को 14 जून 2020 के दिन उनके मुंबई के बांद्रा स्थित घर पर मृत पाया गया था. इस मामले को लेकर सीबीआई ने सुशांत के घर में काम करने वाले लोगों से लेकर, उनके परिवार, गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनके ड्राइवर्स से पूछताछ की थी. इसके अलावा सभी के स्टेटमेंट भी रिकॉर्ड किए गए थे. साथ ही सुशांत का इलाज करने वाले डॉक्टर्स और उनके मनोचिकित्सक से भी पूछताछ की गई थी.

यह भी पढ़ें :   टोक्यो ओलिंपिक में भारत का चौथा मेडल पहलवान रवि दहिया ने किया पक्का, ब्रॉन्ज पर दावेदारी
यह भी पढ़ें :   सुशांत केस : महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने सीबीआई से पूछा , 5 महीने हो गए, क्या मिला

इस बारे में हाल ही में एजेंसी की तरफ से कहा गया था, ”सीबीआई बहुत गहराई से और प्रोफेशनल तरीके से लेटेस्ट साइंटिफिक टेक्निक के इस्तेमाल से जांच कर रही हैं. इस जांच के दौरान मोबाइल फॉरेंसिक इक्विपमेंट की मदद से डिजिटल डिवाइसों में से डेटा को निकाला गया है.” इसके अलावा यह भी बताया गया कि ”जांच करने वाली टीम और सीनियर अफसरों ने इस मामले को समझने के लिए हादसे की जगह पर कई बार जाकर जांच की है. CFSL, जिन्हें उनके काम में माहिर समझा जाता है, उन्होंने भी सुशांत की मौत की जगह की जांच में मदद की है.”

यह भी पढ़ें :   सुशांत सुसाइड केस : सीबीआई ने बताया कहां तक पहुंची जांच

बता दें कि सीबीआई ने अपनी जांच के लिए अलीगढ़, फरीदाबाद, हैदराबाद, मुंबई, मानेसर और पटना जाकर सबूत इकट्ठा किए हैं और लोगों की स्टेटमेंट को भी रिकॉर्ड किया है. बात करें AIIMS की रिपोर्ट की तो सुशांत सिंह राजपूत के विसरा की जांच के लिए AIIMS में डॉक्टर्स की एक टीम बनाई गई थी. कुछ समय पहले अपनी सीबीआई को दी गई रिपोर्ट में डॉक्टर्स ने साफ किया था कि सुशांत की मौत आत्महत्या थी और उसमें मर्डर जैसा कुछ नहीं मिला. अब सीबीआई क्या फैसला सुनाती है, यह जानने का लोग इंतजार कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें :   ड्रग्स केस में अब अर्जुन रामपाल पर NCB की तलवार, गैब्रिएला से भी होगी पूछताछ

Latest news

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लिया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग...

मुख्यमंत्री ने नीति आयोग की मीटिंग में पंजाब की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाये, एम. एस. पी. को कानूनी गारंटी बनाने...

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाते हुए न्यूतनम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) को कानूनी...

“हैंड फुट माउथ” बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं

चंडीगढ़ प्रशासन के निर्देशानुसार “हैंड फुट माउथ” नामक वायरल रोग पाए जाने के उपरांत चंडीगढ़ विद्यालय बंद करने की खबर आई है।
यह भी पढ़ें :   सुशांत सुसाइड केस : सीबीआई ने बताया कहां तक पहुंची जांच
“हैंड फुट माउथ”...

Related news

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लिया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग...

मुख्यमंत्री ने नीति आयोग की मीटिंग में पंजाब की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाये, एम. एस. पी. को कानूनी गारंटी बनाने...

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाते हुए न्यूतनम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) को कानूनी...

“हैंड फुट माउथ” बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं

चंडीगढ़ प्रशासन के निर्देशानुसार “हैंड फुट माउथ” नामक वायरल रोग पाए जाने के उपरांत चंडीगढ़ विद्यालय बंद करने की खबर आई है। “हैंड फुट माउथ”...