Saturday, July 24, 2021

सार्वजनिक जगहों पर अनिश्चितकाल धरने को लेकर SC हुआ सख्त

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में हुए प्रदर्शन को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला दिया है. कोर्ट ने कहा है कि सार्वजनिक जगहों पर अनिश्चितकाल तक प्रदर्शन नहीं हो सकता है चाहे वो शाहीन बाग हो या कोई और जगह. कोर्ट ने कहा कि निर्धारित जगहों पर ही प्रदर्शन किया जाना चाहिए. आने-जाने के अधिकार को रोका नहीं जा सकता है. विरोध और आने-जाने के अधिकार में संतुलन जरूरी है.

यह भी पढ़ें :   हाथरस केस में केरल के पत्रकार की गिरफ्तारी पर यूपी सरकार को नोटिस

गौरतलब है कि दिसंबर 2019 में केंद्र सरकार ने संसद से नागरिकता संशोधन कानून पास किया था. जिसके तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले धार्मिक अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का प्रावधान किया गया. इस कानून को धर्म के आधार पर बांटने वाला बताकर दिल्ली से शाहीन बाग से लेकर देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन किए गए. शाहीन बाग में दिसंबर से मार्च तक कोरोना लॉकडाउन लगने तक सड़कों पर प्रदर्शन चला था.

यह भी पढ़ें :   हाईकमान की तमाम कोशिशों के बावजूद सिद्धू-अमरिंदर की अनबन बरकरार
यह भी पढ़ें :   बीतते हर पल के साथ बढ़ रहा पेट्रोल-डीज़ल का भाव, जानिए आज का आंकड़ा

इसी मसले पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सार्वजनिक स्थानों और सड़कों पर अनिश्चितकाल तक कब्जा नहीं किया जा सकता है. केवल तय स्थानों पर ही प्रदर्शन होना चाहिए. कोर्ट ने ये भी कहा कि आवागमन का अधिकार अनिश्चितकाल तक रोका नहीं जा सकता. कोर्ट ने ये भी कहा कि सार्वजनिक बैठकों पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता है लेकिन उन्हें निर्धारित क्षेत्रों में होना चाहिए. संविधान विरोध करने का अधिकार देता है लेकिन इसे समान कर्तव्यों के साथ जोड़ा जाना चाहिए. विरोध के अधिकार को आवागमन के अधिकार के साथ संतुलित करना होगा. सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में ये भी कहा कि प्रशासन को रास्ता जाम कर प्रदर्शन रहे लोगों को हटाना चाहिए, कोर्ट के आदेश का इंतजार नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़ें :   पीपीई और फतेह किट घोटाले का मामला अब प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंचा

Latest news

Video Viral : हरियाणा के खेतों में अचानक 10 फीट ऊपर उठ गई जमीन!

हरियाणा में विचित्र घटनाक्रम देखने को मिला। इस घटनाक्रम की वीडियो वायरल हो रही है। दूर-दूर तक इसकी चर्चा है। अचानक जमीन उठने की...
यह भी पढ़ें :   अपनी चालबाजी से बाज़ नहीं आ रहा चीन, नेपाल के 7 जिलों में जमीन हथियाई

किसानी प्रदर्शन का उद्योगों पर असर, CM के आदेश पर अब सख्ती करेगी हरियाणा पुलिस

कृषि कानूनों के विरोध में टीकरी बार्डर पर लंबे समय से चल रहे किसान संगठनों के धरनों से उद्योग और व्यापार चौपट हो गए...

हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट की पेश

16 मई को हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश कर दी है।...

पेगासस जासूसी मामला : चंडीगढ़ में हरियाणा कांग्रेस ने निकाला रोष मार्च तो पहुंचे थाने

पेगासस जासूसी मामले में हरियाणा कांग्रेस ने विरोध मार्च निकाला। कांग्रेस मुख्यालय से राजभवन की तरफ जा रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने सेक्टर...

Related news

Video Viral : हरियाणा के खेतों में अचानक 10 फीट ऊपर उठ गई जमीन!

हरियाणा में विचित्र घटनाक्रम देखने को मिला। इस घटनाक्रम की वीडियो वायरल हो रही है। दूर-दूर तक इसकी चर्चा है। अचानक जमीन उठने की...
यह भी पढ़ें :   IPL को लेकर BCCI ने किया साफ़, बोले- नहीं बदले जायेंगे आयोजन स्थल

किसानी प्रदर्शन का उद्योगों पर असर, CM के आदेश पर अब सख्ती करेगी हरियाणा पुलिस

कृषि कानूनों के विरोध में टीकरी बार्डर पर लंबे समय से चल रहे किसान संगठनों के धरनों से उद्योग और व्यापार चौपट हो गए...

हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट की पेश

16 मई को हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश कर दी है।...

पेगासस जासूसी मामला : चंडीगढ़ में हरियाणा कांग्रेस ने निकाला रोष मार्च तो पहुंचे थाने

पेगासस जासूसी मामले में हरियाणा कांग्रेस ने विरोध मार्च निकाला। कांग्रेस मुख्यालय से राजभवन की तरफ जा रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने सेक्टर...