निजी अस्पतालों की मनमानी होगी बंद, हरियाणा में तय हुए COVID-19 टेस्ट के लिए रेट

हरियाणा के स्वास्थ्य एवं गृहमंत्री अनिल विज ने जींद के उचाना में स्थापित नई कोविड-19 आणविक (मॉलिक्यूलर) लैब का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से उद्घाटन किया. इस मौके पर उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला भी उपस्थित थे. उप-मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री ने ‘संशोधित होम आइसोलेशन प्रोटोकॉल’ जारी किया. उन्होंने कहा कि राज्य में अब 14 सरकारी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में ऐसी कोविड-19 लैब स्थापित की जा चुकी हैं, जिनमें 13350 टेस्ट प्रतिदिन किए जाते हैं. इस प्रकार, प्रदेश के 6 निजी अस्पतालों में 5620 टेस्ट की सुविधा दी जा रही है. इसके साथ ही विभाग ने राज्य के सभी जिलों में इस प्रकार की लैब स्थापित करने का लक्ष्य रखा है, जिसके तहत शीघ्र ही पानीपत, यमुनानगर और भिवानी में भी ऐसी लैब स्थापित की जाएगी.

यह भी पढ़ें :   बेबाक बयानों से सुर्खियां बटोरते विज ने कहा- ‘क से कांग्रेस, क से कलह’

इस दौरान कोरोना मरीजों की देखभाल के लिए ‘स्टैप-वन’ नामक एनजीओ के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर भी किए गए. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में इस समय 46367 क्वारंटाइन बेड हैं, जबकि 3486 कंटेनमैंट जोन, 10145 आइसोलशन बेड, 2231 आईसीयू बेड, 1070 वेंटीलेटर, 3.78 लाख पीपीई किट और 7.25 लाख एन-95 मास्क की सुविधा है. निजी लैब में आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए 2400 रुपये, रेपिड एंटिजेन के लिए 650 रुपये और इलिसा हेतु 250 रुपये तय किए हैं. उन्होंने बताया कि मरीजों के लिए निजी अस्पतालों में आइसोलेशन बेड, आईसीयू व वेंटिलेटर की सुविधा के लिए भी रेट तय किए गए हैं ताकि कोई भी अस्पताल मरीजों से अधिक बिल की वसूली न कर सकें.

यह भी पढ़ें :   Alert ! फंगस के तीन में से दो मरीज अस्पताल नहीं, बल्कि होम आइसोलेशन वाले
यह भी पढ़ें :   अब UP में भी कोरोना को लेकर सख्त हुए नियम, 10 जिलों में नाईट कर्फ्यू

इसके साथ ही फरीदाबाद, गुरुग्राम, पंचकूला, रोहतक और करनाल में प्लाज्मा बैंक चल रहे हैं. चैटाला ने स्वास्थ्य विभाग की प्रशंसा करते हुए कहा कि कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग ने जो महत्वपूर्ण कार्य किया है, वह देश के लिए अनुकरणीय है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को इस महामारी से वैक्सिन आने तक लड़ना होगा ताकि प्रदेश के किसी भी व्यक्ति को कोई हानि न हो सके. इसके साथ ही, उन्होंने दादरी में भी इस प्रकार की लैब स्थापित करने के लिए कहा.

यह भी पढ़ें :   ट्रेन में मनाएं जन्मदिन व शादी की सालगिरह, फिर से शुरू हुई यात्रियों के लिए सुविधा

अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने प्रत्येक जिले में ऐसी लैब स्थापित करने का लक्ष्य रखा है, जिसको शीघ्र ही पूरा किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्य के सभी जिला अस्पतालों में अन्य टेस्ट करवाने की सुविधा भी मरीजों को दी जाएगी, जिसके लिए उचित कदम उठाए जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें :   समय से पहले हरियाणा में शुरू हुई धान की खरीद, CM बोले...

Latest news

हिमाचल में चट्टान किनारे बसे लोगों को पल-पल डरा रहा भूस्खलन

नूरपुर शहर का एक किनारा चट्टानों के साथ बसा हुआ है। चट्टानों के साथ साथ कई मकान व सरकारी दफ्तर सटे हुए हैं। लेकिन...

Coronavirus : वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी संक्रमित हो रहे लोग

वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी लोग कोरोना पाजिटिव हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए अध्ययन...

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बनने जा रहा बिलासपुर

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बिलासपुर जिले की बंदला धार में बनेगी। विश्व में तुर्की...

हिमाचल प्रदेश में मानसून ने किया 502 करोड़ का नुकसान, अभी और तबाही की आशंका

हिमाचल प्रदेश में मानसून सीजन के दौरान जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। 502 करोड़ की चल अचल संपत्ति आपदा के चलते ध्वस्त हो...

Related news

यह भी पढ़ें :   राहुल गांधी पर फिर एक बार अनिल विज ने कसा तंज

हिमाचल में चट्टान किनारे बसे लोगों को पल-पल डरा रहा भूस्खलन

नूरपुर शहर का एक किनारा चट्टानों के साथ बसा हुआ है। चट्टानों के साथ साथ कई मकान व सरकारी दफ्तर सटे हुए हैं। लेकिन...

Coronavirus : वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी संक्रमित हो रहे लोग

वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी लोग कोरोना पाजिटिव हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए अध्ययन...

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बनने जा रहा बिलासपुर

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बिलासपुर जिले की बंदला धार में बनेगी। विश्व में तुर्की...

हिमाचल प्रदेश में मानसून ने किया 502 करोड़ का नुकसान, अभी और तबाही की आशंका

हिमाचल प्रदेश में मानसून सीजन के दौरान जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। 502 करोड़ की चल अचल संपत्ति आपदा के चलते ध्वस्त हो...