Saturday, October 16, 2021

चंडीगढ़ में धारा 144 ताक पर, सुखबीर बादल के बाद राकेश टिकैत पहुंचे बाबा लाभ सिंह से मिलने

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत बुधवार रात मटका चौक पर बाबा लाभ सिंह से मुलाकात करने पहुंचे। टिकैत ने लाभ सिंह को गले लगाकर कहा, शाबाश बाबा…जीते जी आपकी मूर्ति चंडीगढ़ में लगेगी। आंदोलन के लिए टिकैत ने उन्हें बधाई दी। वह लगभग पांच मिनट तक मटका चौक पर रुके। इस दौरान चौक पर जाम भी लगा रहा। काफी देर तक वाहन यहां फंसे रहे।

राकेश टिकैत के आने की सूचना पर दोपहर से ही मटका चौक पर पुलिस तैनात कर दी गई थी। शाम चार बजे से चौक पर लोग जुटने लगे थे। ट्वीट के माध्यम से राकेश टिकैत ने बताया था कि शाम 6 बजे वह मटका चौक पर पहुंचकर बाबा लाभ सिंह से मुलाकात करेंगे। काफी संख्या में समर्थक उनका इंतजार कर रहे थे। रात पौने आठ बजे वह मटका चौक पर पहुंचे तो उनसे मिलने के लिए लोगों में धक्कामुक्की भी हुई। राकेश टिकैत के साथ आए लोगों ने भीड़ को नियंत्रित किया।

यह भी पढ़ें :   किसान नेता राकेश टिकैत के काफिले पर पथराव, कार के शीशे टूटे
यह भी पढ़ें :   संसद घेरने का ऐलान टिकैत बोले चार नहीं चालीस लाख आएंगे ट्रैक्टर

राकेश टिकैत ने लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि सरकार ईमानदार नहीं है। अभी लड़ाई तेज होनी है। आप सभी मजबूत होकर और अनुशासन बनाकर रहिए। केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने ही होंगे। टिकैत ने कहा कि उनके और किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी के बीच कोई मतभेद नहीं है। सब मसले सुलझा लिए गए हैं।

किसानों के समर्थन में कृषि कानूनों को खत्म कराने के लिए बाबा लाभ सिंह कई महीनों से मटका चौक पर अपने समर्थकों के साथ बैठे हैं। कुछ दिन पहले शिअद के प्रधान सुखबीर सिंह बादल भी मटका चौक पर बाबा से मिलने पहुंचे थे। कई बार पुलिस ने बाबा को हटाने का प्रयास किया, लेकिन समर्थकों के विरोध के कारण सफल न हो सकी।

यह भी पढ़ें :   दिल्ली के मुख्यमंत्री की पत्नी कोरोना पॉजिटिव, केजरीवाल भी हुए क्वारंटीन

शहर में धारा 144 का हवाला देने वाली पुलिस काफी संख्या में पहुंचे समर्थकों के सामने मूकदर्शक बनी रही। इस दौरान पुलिस ने किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई भी नहीं की। पुलिस का कहना है कि जब अधिकारियों की ओर से निर्देश दिया जाएगा तो कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें :   अरावली का सीना चीरने वालों पर बड़ा एक्शन, तोड़े जा रहे अवैध तरीके से बने फार्म हाउस

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   सिद्धू और कार्यकारी अध्यक्षों को लेकर दिए अपने बयान पर अब हरीश रावत ने मांगी माफ़ी

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...