Friday, September 17, 2021

‘मोदी सरकार ने गरीब के लिए नहीं किया कोई काम, अरबपतियों को दिया मुनाफा’

पंजाब में तीन दिवसीय खेती बचाओ रैली के बाद मंगलवार को राहुल गांधी हरियाणा पहुंचे। यहां कुरुक्षेत्र के पेहोवा में राहुल गांधी ने एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि छह साल में मोदी सरकार ने देश के गरीब के लिए कोई काम नहीं किया। रात को आठ बजे मोदी ने नोटबंदी की। गरीब लाइन में लगा रहा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार खत्म होगा लेकिन बाद में सरकार ने तीन लाख पचास हजार करोड़ रुपये हिंदुस्तान के सबसे धनवान लोगों के माफ किए। जीएसटी के बारे में छोटे व्यापारी को कुछ नहीं पता।

यह भी पढ़ें :   राजा साहब अमर रहें... के नारों से गूंजा शिमला का आसमान, हर किसी की आँखें नम

कोरोना में मजदूरों को भूखे-प्यासे पैदल चलने को मजबूर होना पड़ा। किसान का मोदी सरकार ने एक रुपये माफ नहीं किया लेकिन आमिरों का कर्जा माफ किया। अब किसानों को परेशान कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हम किसानों को आजादी दे रहे हैं। अगर उन्होंने ये कानून किसानों के लिए बनाए हैं तो हरियाणा-पंजाब और राजस्थान में आंदोलन क्यों हो रहे हैं। राज्यसभा और लोकसभा में डिबेट क्यों नहीं की। कोरोना काल में मोदी सरकार ये कानून इसलिए लेकर आई कि इस दौरान किसान लड़ नहीं पाएगा। लेकिन मोदी देश के किसानों को नहीं समझते हैं।

यह भी पढ़ें :   12th Result : कोर्ट ने मूल्यांकन फॉर्मूले पर मांगा स्पष्टीकरण, अब 22 जून को होगी सुनवाई 
यह भी पढ़ें :   घाटी में पर्यटन को बढ़ावा देने की कवायद तेज़, अंतरराष्ट्रीय स्तर के बनेंगे राजमार्ग

एमएसपी, खरीद और मंडी का सिस्टम किसानों को और हिंदुस्तान को खाद्य सुरक्षा देने के लिए बनाया गया है। इसमें एक-एक कड़ियां हैं। अगर एक कड़ी तोड़ी तो पूरा सिस्टम नष्ट हो जाएगा। मंडी खत्म होने से मजदूर, किसान, आढ़ती मंडी खत्म होने से बेरोजगार हो जाएंगे। पीएम मोदी एमएसपी, मंडी और फसल खरीद को तोड़ना चाहते हैं। एक बार यह सिस्टम टूट गया तो आपको अपना मूल्य नहीं मिलेगा। आपकी जमीन छीन ली जाएगी। आपकी जमीन पर मॉल बनेंगे और बड़े-बड़े फ्लैट बनेंगे। लेकिन हिंदुस्तान का किसान और मजदूर इन जगहों पर नहीं जा पाएगा। हम चाहते हैं कि आपको आपका अधिकार मिले। नरेंद्र मोदी अंबानी और आडानी के लिए रास्ता साफ कर रहे हैं। पहले नोटबंदी, जीएसटी अब इन कानूनों से रास्ता साफ कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें :   कंप्यूटर टीचर्स को CAT से मिली राहत, नौकरी से हटाने के आदेश पर रोक

खाद्य सुरक्षा का ढांचा अगर तोड़ दिया गया तो पूरा हिंदुस्तान गुलाम बनेगा। आज 10 रुपये में मिलने वाली सामान कल पचास रुपये में मिलेगा। ये पैसे किसान-मजदूर को नहीं जाएंगे। ये सीधे अंबानी और अडानी को जाएंगे। इसलिए हम पूरे देश में किसानों के साथ खड़े हैं। हमारी सरकार आई तो इन कानूनों को हम कूड़े दान में डाल देंगे।

यह भी पढ़ें :   कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने दिया इस्तीफा, नए CM को लेकर सवाल

Latest news

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...

Related news

यह भी पढ़ें :   कंप्यूटर टीचर्स को CAT से मिली राहत, नौकरी से हटाने के आदेश पर रोक

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...