Friday, October 22, 2021

कृषि कानून का विरोध, किसानों ने किया दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे जाम

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों का गुस्सा अब चरम पर है। जिसका असर रविवार को एक बार फिर दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे और दिल्ली-अमृतसर रेलवे ट्रैक पर देखने को मिला। किसानों ने हरियाणा-पंजाब सीमा पर एक साथ नेशनल हाइवे और रेलवे ट्रैक जाम कर दिए। जहाँ एक तरफ नेशनल हाइवे पर किसानों ने जाम लगाकर सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी और प्रदर्शन किया। वहीं, रेलवे ट्रैक पर बैठे किसान भी अपने हक की लड़ाई लड़ने की बात नजर आये। नेशनल हाइवे जाम कर प्रदर्शन कर रहे किसानों के जाम की वजह से जहाँ हाइवे पर वाहनों की लंबी लंबी कतारें लग गईं। वहीँ किसानों ने सरकार को सीधे शब्दों में कहा कि सरकार ये काले कानून वापिस ले ले नही तो धरने प्रदर्शन इसी तरह जारी रहेंगे।

यह भी पढ़ें :   ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के खिलाफ दर्ज हुआ Child Abusing का मामला

नेशनल हाइवे के साथ-साथ किसानों ने दिल्ली-अमृतसर रेलवे ट्रैक भी ब्लॉक कर दिया। दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे पर शंभु रेलवे स्टेशन पर किसान रेलवे ट्रैक के बीचों बीच बैठ गए हैं और कृषि कानून वापिस लेने की मांग कर रहे हैं। किसानों का कहना है कि अब किसान वो किसान नहीं रहा जो सरकार के आदेशों के आगे झुक जायेगा। अब किसान अपने हक के लिए लड़ना जानता है।

यह भी पढ़ें :   ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के खिलाफ दर्ज हुआ Child Abusing का मामला

किसानों ने एक साथ नेशनल हाइवे और रेलवे ट्रैक ब्लॉक कर दिए , जिसका सीधे तौर पर आम जनता को खामियाजा भुगतना पड़ा। दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे पर लोगों को अपने बच्चों और भरभरकम सामान के साथ पैदल ही कई-कई किलोमीटर का सफर तय करना पड़ा। लोगों ने बताया कि बसे और ट्रेने बंद होने से उन्हें बहुत ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें :   शाहाबाद की तीन बेटियां ओलंपिक में दिखाएंगी अपनी हॉकी का जौहर

किसानों का प्रदर्शन कम होने का नाम नहीं ले रहा है। दूसरी ओर सरकार भी अपने कानूनों पर अडिग है। ऐसे में अब देखना होगा कि किसानों का प्रदर्शन क्या रुख लेता है।

Latest news

यह भी पढ़ें :   जम्मू-कश्मीर के कनाचक इलाके में पुलिस ने एक पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

यह भी पढ़ें :   कोरोना टीकाकरण अभियान में चंडीगढ़ श्रेष्ठ प्रदर्शन की श्रेणी में, विभाग का बढ़ा उत्साह

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...