Sunday, November 28, 2021

बलविंदर सिंह संधू हत्याकांड में आठ आरोपियों पर आरोप तय, मामले की अगली सुनवाई 20 सितंबर को

शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह संधू हत्याकांड में मंगलवार को आठ आरोपियों पर आरोप तय किए गए। नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की विशेष अदालत में हुई सुनवाई के दौरान सुखदीप सिंह, गुरजीत सिंह, सुखमीत पाल, इंद्रजीत सिंह, सुखराज सिंह के खिलाफ धारा 302, 120बी, आर्म्स एक्ट व गैर-कानूनी गतिविधियों (यूएपीए एक्ट) के तहत आरोप तय हुए जबकि जगरूप सिंह, आकाशदीप व रवि ढिल्लों पर धारा 201, 212 व आर्म्स एक्ट तहत केस चलेगा। मामले की अगली सुनवाई 20 सितंबर तय की गई है।

यह भी पढ़ें :   3 बड़े संशोधनों पर राजी सरकार, नहीं वापिस लेगी कृषि कानून !

अक्तूबर, 2020 में बलविंदर सिंह संधू की भिखीविंड में उनके स्कूल में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या में खालिस्तान लिब्रेशन फोर्स (केएलएफ) का नाम आने के बाद जांच एनआईए को सौंपी गई थी। एनआईए ने केएलएफ से जुड़े 8 आरोपियों गुरदासपुर निवासी सुखराज सिंह सुक्खा उर्फ लखनपाल, सुखदीप सिंह बूरा उर्फ भूरा, हुसैनपुर लुधियाना निवासी रविंदर सिंह उर्फ रवि, जनकपुरी लुधियाना निवासी आकाशदीप अरोड़ा उर्फ धालीवाल, सुभाष नगर लुधियाना निवासी जगरूप सिंह, तरनतारन के गांव रशीआना निवासी इंदरजीत सिंह उर्फ इंदर और गैंग के मुखिया भिखीविंड निवासी सुखमीत पाल सिंह के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

यह भी पढ़ें :   UP में 3 लड़कियों पर सोते समय तेजाब फेंका, एक बहन की हालत गंभीर
यह भी पढ़ें :   UP में 3 लड़कियों पर सोते समय तेजाब फेंका, एक बहन की हालत गंभीर

सितंबर 1990 में आतंकी पंजवड़ ने 200 साथियों के साथ बलविंदर सिंह के घर पर हमला किया था। इसमें रॉकेट लांचर का भी इस्तेमाल हुआ था। आतंकवादियों ने बलविंदर के घर को चारों तरफ से घेर लिया था। उनके घर की तरफ जाने वाले सभी रास्ते भी बंद कर दिए थे ताकि पुलिस व अर्धसैनिक बल मदद को न आ सकें।

पांच घंटे चली इस मुठभेड़ में पंजवड़ भाग खड़ा हुआ था और उसके कई गुर्गे मारे गए थे। घर में बनाए गए पक्के बंकरों से परिवार के सभी सदस्यों ने स्टेनगन सरीखे हथियारों से आतंकवादियों का बहादुरी से मुकाबला किया था। इसके बाद बलविंदर सिंह का नाम सुर्खियों में आ गया था। 1993 में गृह मंत्रालय की सिफारिश पर तत्कालीन राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा ने बलविंदर सिंह, उनके बड़े भाई रंजीत सिंह और उनकी पत्नियों को शौर्य चक्र से सम्मानित किया था।

यह भी पढ़ें :   एकतरफा प्यार में युवक को हुई उम्रकैद और युवती को मिली मौत

Latest news

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों...

भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम : राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम है। अगर किसी देश...

मंडी की जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब किया अपने नाम

मंडी जिला से सबंध रखने वाली जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब अपने नाम कर हिमाचल और मंडी का नाम रोशन किया...

प्रदूषण का असर : गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद

हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे। एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से बचाव के लिए...

Related news

यह भी पढ़ें :   'वाट्सएप यूजर्स को नए इंटरनेट मीडिया नियमों से डरने की कोई जरूरत नहीं'

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों...

भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम : राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम है। अगर किसी देश...

मंडी की जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब किया अपने नाम

मंडी जिला से सबंध रखने वाली जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब अपने नाम कर हिमाचल और मंडी का नाम रोशन किया...

प्रदूषण का असर : गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद

हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे। एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से बचाव के लिए...