Tuesday, December 7, 2021

ग्रामीण भारत में बदलाव का कदम, पीएम मोदी ने बांटा संपत्ति कार्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्वामित्व योजना की शुरुआत की. प्रधानमंत्री मोदी ने इस योजना के तहत करीब एक लाख लोगों को प्रॉपर्टी कार्ड वितरित किया. वहीं कांग्रेस सहित विपक्षी पार्टियों पर ग्रामीणों और गरीबी की अनदेखी का आरोप लगाया. पीएम मोदी ने इस दौरान कहा, ‘लंबे समय तक सत्ता में रहे लोगों ने गांवों को उनके हाल पर छोड़ दिया था, मैं ऐसा नहीं कर सकता. सरकार ने छह साल में ग्रामीणों के लिए इतना काम किया है जितना इससे पहले के छह दशकों में नहीं हुआ.’

यह भी पढ़ें :   नए किसान बिल पर PM मोदी के मन की बात, जानिए क्या बोले...

प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, ‘कई लोग नहीं चाहते कि ग्रामीण, गरीब, किसान और मजदूर ‘आत्मनिर्भर’ बनें.’ कृषि, श्रम संबंधी और अन्य सुधारों के विरोध का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बिचौलियों के जरिये राजनीति करने वाले लोग झूठ फैला रहे हैं, देश अब रुकेगा नहीं.

यह भी पढ़ें :   कोरोना का असर, जानें अब तक देश के कितने राज्यों में लग चुकी सख्त पाबंदियां

स्वामित्व कार्ड को प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने ग्रामीण भारत में बदलाव लाने वाली ऐतिहासिक पहल बताया है. सरकार की इस पहल से ग्रामीणों को अपनी जमीन और संपत्ति को एक वित्तीय संपत्ति के तौर पर इस्तेमाल करने की सुविधा मिलेगी, जिसके एवज में वह बैंकों से कर्ज और दूसरा वित्तीय फायदा उठा सकेंगे.

यह भी पढ़ें :   कृषि कानूनः पीएम मोदी ने एक बार फिर किसानों को दिलाया भरोसा

पीएम मोदी ने इस योजना की शुरुआत की. बता दें​ कि पंचायतीराज मंत्रालय के तहत शुरू हो रही इस योजना से 6 राज्यों के 763 पंचायतों के सवा लाख लोग लाभान्वित हो रहे हैं. इस कार्यक्रम की शुरुआत से करीब एक लाख संपत्ति मालिक अपनी संपत्ति से जुड़े कार्ड अपने मोबाइल फोन पर एसएमएस लिंक के जरिये डाउनलोड कर सकेंगे. इसके बाद संबंधित राज्य सरकारों द्वारा संपत्ति कार्ड का भौतिक वितरण किया जाएगा.

बता दें कि जिन लोगों को इस योजना का लाभ मिला है, उनमें हरियाणा के 221, महाराष्ट्र के 100, उत्तर प्रदेश के 346, मध्य प्रदेश के 44 और उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक की दो पंचायतें शामिल हैं.

यह भी पढ़ें :   गुजरात को पीएम मोदी ने दिया एक और सौगात

Latest news

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों...

भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम : राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम है। अगर किसी देश...

मंडी की जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब किया अपने नाम

मंडी जिला से सबंध रखने वाली जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब अपने नाम कर हिमाचल और मंडी का नाम रोशन किया...

प्रदूषण का असर : गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद

हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे। एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से बचाव के लिए...

Related news

यह भी पढ़ें :   इन 3 खिलाड़ियों ने छोड़ा IPL 2021, कोरोना का खौफ बनी वजह !

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों...

भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम : राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम है। अगर किसी देश...

मंडी की जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब किया अपने नाम

मंडी जिला से सबंध रखने वाली जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब अपने नाम कर हिमाचल और मंडी का नाम रोशन किया...

प्रदूषण का असर : गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद

हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे। एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से बचाव के लिए...