Saturday, October 16, 2021

हैती में आए भूकंप के तेज झटकों से क्षतिग्रस्त हुआ एकमात्र मेडिकल आक्सीजन प्लांट

कैरिबियाई देश हैती में पिछले दिनों आए भूकंप के तगड़े झटकों ने ना सिर्फ भारी मात्रा में नुकसान पहुंचाया बल्कि 2 हजार से ज्यादा लोगों की जिंदगी भी छीन ली। 7.2 की तीव्रता से आए इस भूकंप के झटके में दक्षिणी हिस्से में एकमात्र चिकित्सा आक्सीजन संयंत्र भी क्षतिग्रस्त हुआ। पहले ही यह देश कोरोना वायरस और उष्णकटिबंधीय तूफान का सामना कर रहा है। ऐसे में इस भूकंप ने तबाही मचाई। भूकंप के दौरान क्षतिग्रस्त हुए आक्सीजन संयंत्र बिल्डिंग में अक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन लगी हुई थी, जो इन झटकों के दौरान ढह गई। एथियस कंपनी एक परिवार द्वारा चलाई जा रही थी। यह शनिवार को हैती में आए भूकंप के झटकों से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में शामिल है।

यह भी पढ़ें :   टी20 वर्ल्ड कप की प्लानिंग में 'यॉर्कर मैन' नटराजन ने बनाई अपनी जगह !

कंपनी के मालिक कर्च जेनू ने कहा, ‘हम आक्सीजन उत्पादन फिर से शुरू करने की कोशिश कर रहे हैं। यह हमारी जिम्मेदारी है क्योंकि बहुत से लोग इस पर निर्भर हैं’। इसके साथ ही उन्होंने गुरुवार को क्षतिग्रस्त बिल्डिंग और मलबे की तस्वीर दिखाई।

यह भी पढ़ें :   दिल्ली में लगे लॉकडाउन का मेट्रो पर भी असर, बदला पूरा शेड्यूल

इसके अलावा उन्होंने इस भूकंप के झटकों से प्रभावित संयंत्र के बारे में बताते हुए कहा कि खंभे और छत झुक गई है। सीमेंट ब्लाक के मलबे ने टैंक विद्युत प्रणाली को भी प्रभावित किया गया है। आगे उन्होंने कहा कि हमे खुदाई के साथ मलबे को बाहर निकालने के लिए लोक निर्माण विभाग से मदद का वादा मिला। इसके साथ ही बताया कि राजधानी पोर्ट-आ-प्रिंस में दो मेडिकल आक्सीजन प्लांट के अलावा उनका कारखाना स्थानीय अस्पतालों में सेवा देने वाला एकमात्र था।

यह भी पढ़ें :   चांदनी चौक में तोड़े जाने के बाद बवाल, फिर रातोंरात बना नया हनुमान मंदिर

बता दें कि यहां पर शक्तिशाली भूकंप के चलते कई गांव उजाड़ गए। हजारों की संख्या में लोगों के घर पूरी तरह नष्ट हो जाने के बाद लोग विस्थापित हो गए हैं। भूकंप पीडि़तों को भीषण गर्मी में खुले आसमान के नीचे रहना पड़ रहा है। कोरोना महामारी और हिंसा की घटनाओं के बीच इस प्राकृतिक आपदा में राहत कार्य में मुश्किल हो रही है।

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   टी20 वर्ल्ड कप की प्लानिंग में 'यॉर्कर मैन' नटराजन ने बनाई अपनी जगह !

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...