Friday, September 17, 2021

NCTE ने दी बड़ी राहत, अब एक बार पास हुआ टेट उम्र भर के लिए रहेगा मान्य

शिक्षक बनने की तैयारी में जुटे प्रदेश के लाखों उम्मीदवारों को केंद्र सरकार ने बड़ी राहत दे दी है। अब एक बार पास हुई अध्यापक पात्रता परीक्षा उम्र भर के लिए मान्य रहेगी। नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजूकेशन ने शिक्षक पात्रता परीक्षा में बड़ा बदलाव कर दिया है। अभी तक सात वर्ष के लिए ही टेट पास उम्मीदवार नौकरी के लिए पात्र थे। केंद्र सरकार से मिली छूट के बाद अब बार-बार टेट पास नहीं करना पड़ेगा। केंद्र सरकार ने शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) को उम्रभर के लिए मान्य कर दिया है।

यह भी पढ़ें :   रोजगार युवती को वर्क फ्रॉम होम की नौकरी हड़पे 3 लाख रुपए

अब तक टेट पास करने पर उम्मीदवार सात वर्ष तक नौकरी के लिए पात्र होता था। इसके बाद उसे शिक्षक बनने के लिए दोबारा परीक्षा देनी पड़ती थी। एनसीटीई द्वारा नियमों में किया गया बदलाव केंद्र के साथ ही राज्यों भी लागू होगा। केंद्र और राज्य एनसीटीई नियमों से टेट करवाते हैं। केंद्र सरकार के लिए सीबीएसई और राज्य अपनी परीक्षा खुद करवाते हैं। नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजूकेशन (एनसीटीई) की पिछले दिनों हुई बैठक में टेट के नियमों में बदलाव को मंजूरी दी गई।

यह भी पढ़ें :   त्रिवेंद्र सिंह रावत के बाद ऐसे मिली तीरथ रावत को CM की कुर्सी

सरकारी स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए टेट पास करना अनिवार्य है। अब तक एक बार परीक्षा पास करने से सर्टिफिकेट के आधार पर सात साल के अंदर सरकारी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते थे। अब नए नियम के तहत एक बार परीक्षा पास करने पर उम्रभर के लिए पात्रता मिलेगी। सरकार के इस फैसले का सबसे अधिक लाभ महिलाओं को होगा। दरअसल, शादी और बच्चों के चलते वे नौकरी छोड़ देती थीं। अब दोबारा आसानी से नौकरी पा सकेंगी।

यह भी पढ़ें :   आज से UP के 5 शहरों में लॉकडाउन, CM ने माना पंचायत चुनाव व पर्व के कारण बढ़ा संक्रमण

नई शिक्षा नीति के लागू होते ही शिक्षक बनने के लिए टेट पास करना सभी के लिए अनिवार्य हो जाएगा। केंद्र सरकार ने नई शिक्षा नीति में यह प्रावधान किया है। स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए सिर्फ टेट पास ही आवेदन कर सकेंगे। हिमाचल में अभी तक जेबीटी और टीजीटी बनने के लिए टेट पास होना जरूरी था लेकिन नई नीति लागू होने के बाद स्कूल प्रवक्ता न्यू के लिए भी यह नियम लागू होगा। हिमाचल में जेबीटी और टीजीटी की भर्ती अभी कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर के माध्यम से होती है। स्कूल प्रवक्ता न्यू की भर्ती लोक सेवा आयोग करता है।

यह भी पढ़ें :   Ind vs Eng : इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम को एक और बड़ा झटका, स्पिन गेंदबाज हुए बाहर

Latest news

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...

Related news

यह भी पढ़ें :   आज से UP के 5 शहरों में लॉकडाउन, CM ने माना पंचायत चुनाव व पर्व के कारण बढ़ा संक्रमण

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...