Tuesday, August 16, 2022

धार्मिक स्थल खोलने की तैयार मेघालय, जानें दर्शन के लिए नए नियम

मेघालय सरकार ने छह महीने के अंतराल के बाद एक अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला किया है और कोविड-19 महामारी से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. उपमुख्यमंत्री प्रेस्टोन टायसोंग ने शनिवार को इस बारे में बताया. उन्होंने कहा कि सरकार ने धार्मिक स्थलों के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया भी बनायी है. श्रद्धालुओं के साथ ही हर किसी को कड़ाई से इसका पालन करना होगा.

यह भी पढ़ें :   कोरोना : देश में सुधर रहे संक्रमितों के हालात, टॉप- 15 संक्रमित देशों की सूची से बाहर भारत

टायसोंग ने कहा, ‘राज्य ने एक अक्टूबर से लोगों के लिए धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला किया है. कोविड-19 महामारी के बीच श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. ’ उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘मास्क लगाए बिना किसी को भी धार्मिक स्थलों पर जाने की इजाजत नहीं होगी, हाथों की सफाई करनी होगी और उचित दूरी बनाकर रखनी होगी.’

यह भी पढ़ें :   दावा भारत और ब्रिटेन में मिले स्ट्रेन के खिलाफ असरदार है कोवाक्सिन

उन्होंने कहा कि उपायुक्तों को धार्मिक स्थलों पर गतिविधियों की निगरानी करने और नियमों का कड़ाई से पालन कराने को कहा गया है. राज्य सरकार ने जून में भी धार्मिक स्थलों को खोलने की घोषणा की थी लेकिन कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बाद इस फैसले को वापस ले लिया गया था. इससे पहले मुख्य सचिव एम एस राव ने एक परामर्श जारी कर 65 साल से अधिक उम्र के लोगों, 10 साल से छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं को घर पर रहने को कहा था.

यह भी पढ़ें :   दावा भारत और ब्रिटेन में मिले स्ट्रेन के खिलाफ असरदार है कोवाक्सिन

वहीं आपको बता दें मेघालय में अभी तक कोरोना संक्रमण के कुल 5 हजार 158 केस आ चुके हैं. जिनमें से 3 हजार 343 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं 43 मरीजों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो चुकी है, और फिलहाल 1 हजार 772 कोरोना के एक्टिव मरीजों का इलाज जारी है.

Latest news

प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया महिलाओं का सशक्तिकरण: जय राम ठाकुर

प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की...
यह भी पढ़ें :   कोरोना : देश में सुधर रहे संक्रमितों के हालात, टॉप- 15 संक्रमित देशों की सूची से बाहर भारत

स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस द्वारा सरकारी मिडल स्कूल गोचर का दौरा

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी शिक्षा संस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कार्य किए...

भगवंत मान सरकार राज्य के लोगों को पीने वाला साफ़-सुथरा पानी और साफ़-सफ़ाई की सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार लोगों को साफ़-सुथरा पीने वाला पानी और सेनिटेशन की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध...

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

Related news

प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया महिलाओं का सशक्तिकरण: जय राम ठाकुर

प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की...
यह भी पढ़ें :   दिल्ली में एक बार फिर भूकंप, रिक्टर स्केल पर तीव्रता रही 2.8

स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस द्वारा सरकारी मिडल स्कूल गोचर का दौरा

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी शिक्षा संस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कार्य किए...

भगवंत मान सरकार राज्य के लोगों को पीने वाला साफ़-सुथरा पानी और साफ़-सफ़ाई की सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार लोगों को साफ़-सुथरा पीने वाला पानी और सेनिटेशन की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध...

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...