Thursday, October 21, 2021

धार्मिक स्थल खोलने की तैयार मेघालय, जानें दर्शन के लिए नए नियम

मेघालय सरकार ने छह महीने के अंतराल के बाद एक अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला किया है और कोविड-19 महामारी से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. उपमुख्यमंत्री प्रेस्टोन टायसोंग ने शनिवार को इस बारे में बताया. उन्होंने कहा कि सरकार ने धार्मिक स्थलों के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया भी बनायी है. श्रद्धालुओं के साथ ही हर किसी को कड़ाई से इसका पालन करना होगा.

यह भी पढ़ें :   रोनाल्डो के आर्म बैंड की 55 लाख रुपए में नीलामी, गंभीर बीमारी से जूझ रहे बच्चे का होगा इलाज

टायसोंग ने कहा, ‘राज्य ने एक अक्टूबर से लोगों के लिए धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला किया है. कोविड-19 महामारी के बीच श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. ’ उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘मास्क लगाए बिना किसी को भी धार्मिक स्थलों पर जाने की इजाजत नहीं होगी, हाथों की सफाई करनी होगी और उचित दूरी बनाकर रखनी होगी.’

यह भी पढ़ें :   नगरोटा में मारे गए चारों आतंकियों का हैंडलर निकला जैश सरगना का भाई

उन्होंने कहा कि उपायुक्तों को धार्मिक स्थलों पर गतिविधियों की निगरानी करने और नियमों का कड़ाई से पालन कराने को कहा गया है. राज्य सरकार ने जून में भी धार्मिक स्थलों को खोलने की घोषणा की थी लेकिन कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बाद इस फैसले को वापस ले लिया गया था. इससे पहले मुख्य सचिव एम एस राव ने एक परामर्श जारी कर 65 साल से अधिक उम्र के लोगों, 10 साल से छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं को घर पर रहने को कहा था.

यह भी पढ़ें :   Covid-19 के नियमों के साथ महाराष्ट्र में 8 महीने बाद खुले धार्मिक स्थान

वहीं आपको बता दें मेघालय में अभी तक कोरोना संक्रमण के कुल 5 हजार 158 केस आ चुके हैं. जिनमें से 3 हजार 343 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं 43 मरीजों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो चुकी है, और फिलहाल 1 हजार 772 कोरोना के एक्टिव मरीजों का इलाज जारी है.

Latest news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...
यह भी पढ़ें :   क्या कुंडली बॉर्डर पर फैला कोरोना संक्रमण!

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...
यह भी पढ़ें :   कोरोना ने बिगाड़े पंजाब के हालात, मौत के मामलों में पंजाब निकला सबसे आगे

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...