धार्मिक स्थल खोलने की तैयार मेघालय, जानें दर्शन के लिए नए नियम

मेघालय सरकार ने छह महीने के अंतराल के बाद एक अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला किया है और कोविड-19 महामारी से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. उपमुख्यमंत्री प्रेस्टोन टायसोंग ने शनिवार को इस बारे में बताया. उन्होंने कहा कि सरकार ने धार्मिक स्थलों के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया भी बनायी है. श्रद्धालुओं के साथ ही हर किसी को कड़ाई से इसका पालन करना होगा.

यह भी पढ़ें :   कोरोना की दूसरी लहर में युवा और बच्चे ज्यादा हो रहे संक्रमित

टायसोंग ने कहा, ‘राज्य ने एक अक्टूबर से लोगों के लिए धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला किया है. कोविड-19 महामारी के बीच श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. ’ उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘मास्क लगाए बिना किसी को भी धार्मिक स्थलों पर जाने की इजाजत नहीं होगी, हाथों की सफाई करनी होगी और उचित दूरी बनाकर रखनी होगी.’

उन्होंने कहा कि उपायुक्तों को धार्मिक स्थलों पर गतिविधियों की निगरानी करने और नियमों का कड़ाई से पालन कराने को कहा गया है. राज्य सरकार ने जून में भी धार्मिक स्थलों को खोलने की घोषणा की थी लेकिन कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बाद इस फैसले को वापस ले लिया गया था. इससे पहले मुख्य सचिव एम एस राव ने एक परामर्श जारी कर 65 साल से अधिक उम्र के लोगों, 10 साल से छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं को घर पर रहने को कहा था.

यह भी पढ़ें :   फीफा ने फुटबॉल मैच से ज्यादा ई-गेमिंग के जरिये की कमाई
यह भी पढ़ें :   दिल्ली में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों पर बोले सीएम, कहा- पाबंदियों की जरूरत

वहीं आपको बता दें मेघालय में अभी तक कोरोना संक्रमण के कुल 5 हजार 158 केस आ चुके हैं. जिनमें से 3 हजार 343 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं 43 मरीजों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो चुकी है, और फिलहाल 1 हजार 772 कोरोना के एक्टिव मरीजों का इलाज जारी है.

Latest news

हिमाचल में चट्टान किनारे बसे लोगों को पल-पल डरा रहा भूस्खलन

नूरपुर शहर का एक किनारा चट्टानों के साथ बसा हुआ है। चट्टानों के साथ साथ कई मकान व सरकारी दफ्तर सटे हुए हैं। लेकिन...
यह भी पढ़ें :   गौतम गंभीर के घर तक पहुंचा कोरोना वायरस, अमरिंदर सिंह भी क्वारंटीन

Coronavirus : वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी संक्रमित हो रहे लोग

वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी लोग कोरोना पाजिटिव हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए अध्ययन...

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बनने जा रहा बिलासपुर

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बिलासपुर जिले की बंदला धार में बनेगी। विश्व में तुर्की...

हिमाचल प्रदेश में मानसून ने किया 502 करोड़ का नुकसान, अभी और तबाही की आशंका

हिमाचल प्रदेश में मानसून सीजन के दौरान जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। 502 करोड़ की चल अचल संपत्ति आपदा के चलते ध्वस्त हो...

Related news

हिमाचल में चट्टान किनारे बसे लोगों को पल-पल डरा रहा भूस्खलन

नूरपुर शहर का एक किनारा चट्टानों के साथ बसा हुआ है। चट्टानों के साथ साथ कई मकान व सरकारी दफ्तर सटे हुए हैं। लेकिन...
यह भी पढ़ें :   पंजाब में हालात बिगड़े, कोरोना के ज्यादातर मरीजों की हालत गंभीर

Coronavirus : वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी संक्रमित हो रहे लोग

वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज लगाने के बाद भी लोग कोरोना पाजिटिव हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए अध्ययन...

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बनने जा रहा बिलासपुर

दुनिया की तीन बेहतरीन, सुरक्षित और सबसे खूबसूरत एक्रो पैराग्लाइडिंग साइट में से एक बिलासपुर जिले की बंदला धार में बनेगी। विश्व में तुर्की...

हिमाचल प्रदेश में मानसून ने किया 502 करोड़ का नुकसान, अभी और तबाही की आशंका

हिमाचल प्रदेश में मानसून सीजन के दौरान जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। 502 करोड़ की चल अचल संपत्ति आपदा के चलते ध्वस्त हो...