Friday, January 27, 2023

ईंटों के भठ्ठों के लिए ईंधन के रूप में पराली को 20 प्रतिशत इस्तेमाल करने को किया अनिवार्य

धान की पराली के प्रबंधन में निरंतर प्रयास कर रही राज्य सरकार द्वारा इस दिशा में अहम कदम उठाते हुए राज्य भर में ईंटों के भठ्ठों के लिए ईंधन के रूप में पराली को 20 प्रतिशत ईंधन के तौर पर बरतने को अनिवार्य करने का फ़ैसला लिया गया है।

आज यहाँ जारी प्रेस बयान के द्वारा जानकारी देते हुए पर्यावरण एवं विज्ञान प्रौद्यौगिकी मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने बताया कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के दिशा-निर्देशों के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा नोटिफिकेशन जारी किया गया है कि ईंटों के भठ्ठों में पराली के गठ्ठों को 20 प्रतिशत ईंधन के रूप में अनिवार्य रूप से इस्तेमाल करें। उन्होंने कहा कि इस नए प्रबंधन की तैयारी के लिए भठ्ठों के मालिकों को छह महीने का समय दिया गया है और 1 मई 2023 के बाद इन हिदायतों को लागू ना करने वालों के खि़लाफ़ कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें :   पंजाब सरकार ने माफ़ की किसानों का 61.49 करोड़ रुपये की ब्याज राशि
यह भी पढ़ें :   PCB के पूर्व चेयरमैन ने फिर जिन्ना-गांधी ट्रॉफी के विचार को दोहराया

मीत हेयर ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा किसानों की पराली प्रबंधन में मदद करने और पराली को जलाने से होने वाले प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए इन सीटू और एक्स सीटू काम किए जा रहे हैं। इन सीटू में जहाँ पंजाब के किसानों को पराली प्रबंधन के लिए सवा लाख के करीब मशीनें सब्सिडी पर मुहैया करवाई गईं, वहीं एक्स सीटू के अंतर्गत उद्योगों को पराली को ईंधन के रूप में इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। पराली से सी.एन.जी., बिजली और अन्य ऊर्जा संसाधन पैदा करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :   गौतम गंभीर फाउंडेशन को अक्षय कुमार का साथ, कोरोना से लड़ाई के लिए दिए 1 करोड़

मीत हेयर ने कहा कि नए फ़ैसले के अंतर्गत ईंटों के भठ्ठों में पराली के ईंधन के रूप में 20 प्रतिशत प्रयोग से पराली के प्रबंधन को बढ़ावा मिलेगा और किसानों को भी पराली बेचकर आर्थिक मदद भी मिलेगी। उन्होंने कहा कि नए प्रबंधन के लिए पर्यावरण एवं विज्ञान प्रौद्यौगिकी विभाग द्वारा ईंटों के भठ्ठों वालों के लिए हर तकनीकी सहायता मुहैया करवाई जाएगी। इस सम्बन्धी जारी नोटिफिकेशन के अंतर्गत इन हिदायतों की पालना के लिए समूह डिप्टी कमिश्नरों को भी कहा गया है।

यह भी पढ़ें :   सिद्धू के शपथ ग्रहण में कैप्टन अमरिंदर को न्योता, विवाद सुलझाने कोशिश !

Latest news

मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर दोपहर 3ः15 बजे राजभवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। राज्यपाल ने इसे स्वीकार कर...

जुनूनीयत : दिल की बात शायरी के साथ

लेखिका श्रेया चावला द्वारा लिखित किताब जुनूनीयत दिल को छू जाने वाली शायरियों का कलेक्शन है । जिसमें लोगों के मन की स्थिति के...

‘राष्ट्रीय लॉजिस्टिकस नीति’ पर ज़ोनल स्तरीय कान्फ्ऱेंस करवाई

राज्य की बेहतरी के लिए नीति को अपनाने, भाईवालों को जागरूक करने, मंत्रालयों/विभागों की भूमिका की रूपरेखा तैयार करने और निगरानी करने योग्य मापदण्डों...

विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 1,15,000 रुपए की रिश्वत लेने वाले सेवामुक्त एसएमओ के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

पंजाब विजीलैंस ब्यूरो (विजीलैंस ब्यूरो) ने गुरूवार को भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम के अंतर्गत सिवल अस्पताल मजीठा में तैनात रहे सीनियर मैडीकल अफ़सर (एस. एम....

Related news

यह भी पढ़ें :   पीजीआई के एक और सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर ने दिया इस्तीफा, सीनियर पर लगाए गंभीर आरोप

मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर दोपहर 3ः15 बजे राजभवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। राज्यपाल ने इसे स्वीकार कर...

जुनूनीयत : दिल की बात शायरी के साथ

लेखिका श्रेया चावला द्वारा लिखित किताब जुनूनीयत दिल को छू जाने वाली शायरियों का कलेक्शन है । जिसमें लोगों के मन की स्थिति के...

‘राष्ट्रीय लॉजिस्टिकस नीति’ पर ज़ोनल स्तरीय कान्फ्ऱेंस करवाई

राज्य की बेहतरी के लिए नीति को अपनाने, भाईवालों को जागरूक करने, मंत्रालयों/विभागों की भूमिका की रूपरेखा तैयार करने और निगरानी करने योग्य मापदण्डों...

विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 1,15,000 रुपए की रिश्वत लेने वाले सेवामुक्त एसएमओ के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

पंजाब विजीलैंस ब्यूरो (विजीलैंस ब्यूरो) ने गुरूवार को भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम के अंतर्गत सिवल अस्पताल मजीठा में तैनात रहे सीनियर मैडीकल अफ़सर (एस. एम....