Saturday, October 16, 2021

केंद्र सरकार की नई आर्थिक रिफॉर्म पॉलिसी पर ममता बनर्जी ने मोदी सरकार को घेरा

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है. बनर्जी ने आज बुधवार को केंद्र सरकार की नई आर्थिक रिफॉर्म पॉलिसी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि यह देश की संपत्ति है मोदी की संपत्ति नहीं है और मोदी इसे नहीं बेच सकते. केंद्र सरकार पर बरसते हुए ममता ने कहा कि ये भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का मामला नहीं है. हम आश्चर्यचकित हैं और पूरा देश इसके विरोध में खड़ा होगा. ममता ने ये भी कहा कि बीजेपी देश की संपत्ति बेच कर अपना रिजर्व बढ़ा रही है और चुनाव लड़ रही है.

यह भी पढ़ें :   दिल्ली में लगा नाइट कर्फ्यू , सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन्स

ममता बनर्जी ने कहा कि यह देश की संपत्ति है मोदी की संपत्ति नहीं है और मोदी इसे नहीं बेच सकते. सिर्फ ममता बनर्जी ही नहीं बल्कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी केंद्र सरकार के महत्वाकांक्षी नेशनल मोनेटाइजेशन पाइपलाइन (NMP) प्रोग्राम पर नाराजगी जाहिर की. राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर इस योजना के जरिए देश के सरकारी संसाधानों को बेच डालने का आरोप लगाया.

यह भी पढ़ें :   एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी मुश्किलों में, पति के सपोर्ट में कहा- पोर्नोग्राफिक नहीं बल्कि बनाते हैं इरोटिक फिल्में

राहुल गांधी ने मंगलवार को पीसी में कहा कि 70 साल में जो भी देश की पूंजी बनी, मोदी सरकार ने उसे बेचने का काम किया है. उन्होंने कहा कि रेलवे को निजी हाथों में बेच दिया जा रहा है. पीएम सब कुछ बेच रहे हैं.

यह भी पढ़ें :   बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजों से पहले कैबिनेट में बड़ा फेरबदल, दो मंत्रियों की छुट्टी

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी के नारे का जिक्र करते हुए कहा कि बीजेपी का नारा था कि 70 साल में कुछ नहीं हुआ. कल वित्त मंत्री ने देश में जो भी 70 वर्षों में बना, उसे बेच दिया. देश के युवाओं से केंद्र ने रोजगार छीना, कोरोना में मदद नहीं की, किसानों के लिए तीन कृषक कानून बनाए. राहुल ने कृषि कानूनों पर भी केंद्र को घेरा.

केंद्र सरकार राष्ट्रीय राजमार्ग, रेलवे रूट, स्टेडियम, वेयरहाउस, पावर ग्रिड पाइपलाइन जैसी सरकारी संपत्तियों को अब कमाई के लिए निजी क्षेत्र को लीज पर देकर 6 लाख करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में जुटी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को नेशनल मोनेटाइजेशन पाइपलाइन (NMP) प्रोग्राम की शुरुआत की थी. वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा था कि इन संपत्तियों का स्वामित्व सरकार के पास ही रहेगा, बस इन्हें कमाने के लिए ही पार्टियों को दिया जाएगा. कुछ साल के बाद ये प्राइवेट कंपनियां इसे सरकार को वापस कर देंगी. कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत विपक्षी दल के नेता केंद्र सरकार के इस फैसले का व्यापक स्तर पर विरोध कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें :   कृषि अध्यादेशों के विरोध में चंडीगढ़ किसान भवन में हुई 31 जत्थेबंदियों की बैठक

Latest news

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   UP में कल करीब 13 लाख प्रत्याशियों के भाग्य का होगा फैसला

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...