Saturday, October 23, 2021

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट, 10 राज्यों को येलो अलर्ट और साथ ही भूस्खलन का खतरा भी

हिमाचल प्रदेश में पांच दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला की ओर से प्रदेश के मैदानी और मध्य पर्वतीय 10 जिलों में सात से 11 सितंबर तक भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। ये अलर्ट ऊना, हमीरपुर, बिलासपुर, चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला, सोलन और सिरमौर जिले के लिए जारी किया गया है।

पूरे प्रदेश में 13 सितंबर तक मौसम खराब बना रहने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार लगातार बारिश के कारण भूस्खलन की घटनाएं हो सकती हैं। आम जनता और पर्यटकों को नदी-नालों से दूर रहने की सलाह दी गई है, क्योंकि जल स्तर बढ़ सकता है। मंगलवार को ऊना में अधिकतम तापमान 32.2, भुंतर 30.4, बिलासपुर 29.5, कांगड़ा 29.5, चंबा 28.3, सुंदरनगर 27.5, हमीरपुर 28.3, सोलन 28.5, धर्मशाला 28.6, केलांग 21.3, कल्पा 23.6, शिमला 22.6 और डलहौजी में 19.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। आज शिमला में मौसम खराब बना हुआ है।

यह भी पढ़ें :   हिमाचल में नहीं रुक पाया अवैध खनन, आधा दर्जन चेकपोस्ट नाकाम
यह भी पढ़ें :   अपनी मंगेतर संग विजयशंकर ने लिए सात फेरे, बधाइयों का लगा ताँता

वहीं, शिमला जिले के ज्यूरी के पास पहाड़ी से भारी भूस्खलन से बंद हुआ हाईवे बीते करीब 32 घंटों बाद भी बहाल नहीं हो पाया है। पहाड़ी से रुक-रुक कर गिर रहे पत्थर हाईवे बहाली में बाधा बन रहे हैं। मंगलवार अल सुबह से एनएच प्राधिकरण की टीम हाईवे बहाल करने में जुटी है लेकिन मार्ग बहाल नहीं हो पाया है। बता दें, यहां पिछले चार दिनों से हल्का भूस्खलन हो रहा था। सोमवार को पहाड़ी में बड़ी दरार आ गई। ऐसे में समय रहते पुलिस तैनात कर यातायात रोक दिया।

यह भी पढ़ें :   किन्नौर के निगुलसरी में हादसा, HRTC की बस पर गिरा पत्थर; 2 की मौत

इससे निगुलसरी जैसा बड़ा हादसा होने से बच गया। सुबह करीब नौ बजे पहाड़ी से भारी भूस्खलन हुआ। मलबा और चट्टानें सतलुज नदी में समा गईं। उधर, एनएच बाधित होने से किन्नौर जिले का संपर्क शेष दुनिया से कट गया। हाईवे बाधित होने के कारण शिमला से किन्नौर और किन्नौर से शिमला की ओर जाने वाले यात्रियों और वाहन चालकों की परेशानियां बढ़ गई हैं।

Latest news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

यह भी पढ़ें :   हिमाचल का बेटा कश्मीर में शहीद, नम हुई परिजनों की आंखें

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...