Friday, January 27, 2023

देवेंद्र बबली और किसानों के बीच चल रहा विवाद आखिरकार सात दिन के बाद निपटा

टोहाना में जजपा विधायक देवेंद्र बबली व किसानों के बीच चल रहा विवाद आखिरकार सात दिन के बाद निपट गया हैं। पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए तीनों किसानों को रिहा कर दिया गया है। वहीं दर्ज किए गए मामलों को पुलिस ने वापस ले लिए है। इसी शर्त के बाद सदर टोहाना में किसानों द्वारा लगाया गया धरना भी समाप्त कर दिया है। धरना समाप्त होने के बाद जिला प्रशासन ने भी राहत की सांस ली है।

यह भी पढ़ें :   ऑस्‍कर 2021 में मलयालम फिल्‍म 'जलीकट्टू' से भारत की Entry !

रविवार को किसानों ने ऐलान कर दिया था कि अगर पुलिस ने दर्ज मामले वापस नहीं लिए और किसानों की रिहाई नहीं हुई तो 7 जून को पूरे प्रदेश में थानों का घेराव किया जाएगा। घेराव की बात सुनते ही रविवार रात को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए किसान विकास व रवि को रिहा कर दिया गया। पुलिस रात 3 बजे सेंट्रल जेल हिसार से लेकर टोहाना पहुंची। जिसके बाद किसान नेताओं ने एलान कर दिया था कि सोमवार को पूरे प्रदेश के थानों का घेराव नहीं होगा बल्कि टोहाना सदर थाना का घेराव हो गया। सोमवार सुबह हिसार, सिरसा, फतेहाबाद व जींद के किसान सदर थाना पहुंच गए थे।

यह भी पढ़ें :   हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट की पेश
यह भी पढ़ें :   टोक्यो ओलिंपिक के लिए 122 खिलाड़ियों के नाम घोषित, हरियाणा से 24% और पंजाब से 13% खिलाड़ी

सोमवार दोपहर 2 बजे टाेहाना के रेस्ट हाउस में जिला उपायुक्त डा. नरहरि सिंह बांगड़ और एसपी राजेश कुमार व किसान गुरनाम सिंह चंढूनी, जोगिंदर उग्राहां, योगेंद्र यादव, युद्धवीर सहरावत, जोगिंदर घासी राम आदि बैठक में मौजूद रहे। बैठक 3 घंटे तक चली। बैठक में तय हुआ कि पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए तीसरे किसान मक्खन को रिहा कर देगी और जो किसानों पर मामले दर्ज हुए हैं उन्हें वापस ले लेगी। इसी समझौते के बाद किसानों ने धरना समाप्त कर दिया।

यह भी पढ़ें :   25 IPS और HPS का तबादला, हरियाणा पुलिस में हुए ये बड़े तबादले
यह भी पढ़ें :   गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

Latest news

मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर दोपहर 3ः15 बजे राजभवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। राज्यपाल ने इसे स्वीकार कर...

जुनूनीयत : दिल की बात शायरी के साथ

लेखिका श्रेया चावला द्वारा लिखित किताब जुनूनीयत दिल को छू जाने वाली शायरियों का कलेक्शन है । जिसमें लोगों के मन की स्थिति के...

‘राष्ट्रीय लॉजिस्टिकस नीति’ पर ज़ोनल स्तरीय कान्फ्ऱेंस करवाई

राज्य की बेहतरी के लिए नीति को अपनाने, भाईवालों को जागरूक करने, मंत्रालयों/विभागों की भूमिका की रूपरेखा तैयार करने और निगरानी करने योग्य मापदण्डों...

विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 1,15,000 रुपए की रिश्वत लेने वाले सेवामुक्त एसएमओ के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

पंजाब विजीलैंस ब्यूरो (विजीलैंस ब्यूरो) ने गुरूवार को भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम के अंतर्गत सिवल अस्पताल मजीठा में तैनात रहे सीनियर मैडीकल अफ़सर (एस. एम....

Related news

यह भी पढ़ें :   केंद्र सरकार के जमीन खरीद फैसले पर भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- अब बिकेगा जम्मू-कश्मीर

मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर दोपहर 3ः15 बजे राजभवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। राज्यपाल ने इसे स्वीकार कर...

जुनूनीयत : दिल की बात शायरी के साथ

लेखिका श्रेया चावला द्वारा लिखित किताब जुनूनीयत दिल को छू जाने वाली शायरियों का कलेक्शन है । जिसमें लोगों के मन की स्थिति के...

‘राष्ट्रीय लॉजिस्टिकस नीति’ पर ज़ोनल स्तरीय कान्फ्ऱेंस करवाई

राज्य की बेहतरी के लिए नीति को अपनाने, भाईवालों को जागरूक करने, मंत्रालयों/विभागों की भूमिका की रूपरेखा तैयार करने और निगरानी करने योग्य मापदण्डों...

विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 1,15,000 रुपए की रिश्वत लेने वाले सेवामुक्त एसएमओ के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

पंजाब विजीलैंस ब्यूरो (विजीलैंस ब्यूरो) ने गुरूवार को भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम के अंतर्गत सिवल अस्पताल मजीठा में तैनात रहे सीनियर मैडीकल अफ़सर (एस. एम....