Saturday, October 23, 2021

जम्मू में स्वतंत्रता दिवस समाराेह की फुल ड्रेस रिहर्सल, घाटी में नहीं जोश की कमी

स्वतंत्रता दिवस समारोह की फुल ड्रेस रिहर्सल का आयोजन शुक्रवार को जम्मू के मौलाना आजाद स्टेडियम में पूरे जोश और उत्साह से हुआ। इस मौके पर स्टेडियम देश भक्ति के रंग में रंगा दिखा। रिहर्सल में भाग लेने पहुंचे स्कूली बच्चों व सुरक्षाबलों के जवानों में विशेष उत्साह था। रिहर्सल में सेना, अ‌र्द्ध-सैनिकबल, पुलिस के जवान सीआरपीएफ, आइआरपी, एसडीआरएफ के अलावा फायर एंड इमरजेंसी सर्विसेज, फारेस्ट प्रोटेक्शन फोर्स, एनसीसी कैडेटों और स्कूली बच्चों ने भी भाग लिया। सभी टुकड़ियों ने तिरंग को सलामी दी।

एडीसी घनश्याम शर्मा ने परेड का निरीक्षण किया और मार्च पास्ट दस्तों से सलामी ली। फुलड्रेस रिहर्सल का आरंभ सुबह दस बजे हुआ, जिसमें पुलिस और सीआरपीएफ के बैंड दस्तों ने देशभक्ति की धुनों को बजाया, जिससे पूरा स्टेडियम गूंज उठा। वहीं स्कूली छात्राअों ने भी रंगारंग एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए, जिससे रिहर्सल की रौनक में चार चांद लग गए।

यह भी पढ़ें :   बांग्लादेश में 6 मंजिला फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्री में आग लगी, अब तक 52 की मौत

एमए स्टेडियम में फुलस रिहर्सल के दौरान सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे। सुरक्षाकर्मियों ने पूरे स्टेडियम को सुरक्षा घेरे में ले रखा था। बाहर मुख्य गेट से सिर्फ रिहर्सल में भाग लेने वालों को ही अंदर जाने की इजाजत दी जा रही थी। इसके अलावा स्टेडियम के बाहर फ्लाईओवर पर भी पुलिस व सीआरपीएफ के जवान तैनात थे जो हर आने जाने वाले पर पूरी नजर रखे हुए थे।

यह भी पढ़ें :   37वें दिन में पहुंचा किसानों का आंदोलन, हड़ताल से कारोबार ठप

वहीं साइंस कालेज से भी स्टेडियम की ओर जाने वाले मार्ग पर पुलिस की विशेष तैनाती की गई। उधर, रिहर्सल के बाद एमए स्टेडियम को पूरी तरह से सील कर दिया गया। वहां किसी के भी जाने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। अब स्वतंत्रता दिवस समारोह के बाद ही सुरक्षाकर्मियों की स्टेडियम से वापसी होगी और वहां खिलाड़ियों व लोगों को आने जाने की इजाजत मिलेगी।

यह भी पढ़ें :   जम्मू-कश्मीर में फिर से होगी 4G मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल, अगस्त 2019 से थी बंद

फुलड्रेस रिहर्सल के दौरान कोविड के नियमों का सख्ती से पालन किया गया। मार्च पास्ट में शामिल जवानों व बच्चों ने मास्क पहन रखे थे। वहीं रिहर्सल में भाग लेने से पहले प्रतिभागियों की कोरोना जांच भी करवाई गई थी ताकि कोई संक्रमित इसमें शामिल न हो सके, जिससे दूसरों को भी परेशानी हो। स्टेडियम में पहुंचे मेहमानों व पुलिस आैर प्रशासन के अधिकारियों ने भी मास्क पहन रखे थे और एक विशेष दूरी एक दूसरे से बनाकर रखी।

यह भी पढ़ें :   26 जनवरी को होने वाली किसानों की ट्रैक्टर परेड पर महाभारत

Latest news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

यह भी पढ़ें :   अब CPL में नज़र आयेंगे IPL के सबसे महंगे खिलाड़ी मॉरिस

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...