Wednesday, August 10, 2022

कॉपीराइट उल्लंघन मामले में कंगना और रंगोली समेत 4 लोगों पर केस

एक्ट्रेस कंगना रनोट एक बार फिर विवादों में घिरती नजर आ रही हैं। किताब ‘दिद्दा: द वारियर क्वीन ऑफ कश्मीर’ के लेखक आशीष कौल की कॉपीराइट उल्लंघन की शिकायत पर एक कोर्ट के आदेश के बाद मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को एक्ट्रेस कंगना रनौत के खिलाफ कथित जालसाजी का मामला दर्ज किया।

कंगला के अलावा रंगोली चंदेल, अक्षत रनोट और कमल कुमार जैन के खिलाफ खार थाने में मामला दर्ज किया गया है। दरअसल, कंगना ने जनवरी में फिल्म ‘मणिकर्णिका रिटर्न्स- द लीजेंड ऑफ दिद्दा’ बनाने का ऐलान किया था। उसे लेकर ही आशीष ने मुंबई मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के सामने अपनी शिकायत दर्ज कराई थी।

यह भी पढ़ें :   'बच्चन पांडे' का ट्रेलर 18 फरवरी को होगा रिलीज़; मेकर्स ने लॉन्च किया नया पोस्टर!

आशीष का कहना है कि उनके पास कश्मीर की रानी और लोहर (पुंछ) की रानी दिद्दा की कहानी का कॉपीराइट है। यह सोच से परे है कि एक नामी अदाकारा ने किताब और उसकी कहानी पर जबरन अपना अधिकार जमाया है।

पुलिस ने बताया कि मजिस्ट्रेट के आदेश पर भारतीय दंड संहिता की धारा 405 (आपराधिक विश्वासघात), 415 (जालसाजी), 120 बी (आपराधिक साजिश) और कॉपीराइट कानून के तहत FIR दर्ज की गई है। कंगना अपने कथित भड़काऊ ट्वीट के लिए मुंबई में पहले से कुई मुकदमों का सामना कर रही हैं। गीतकार जावेद अख्तर के मानहानि मामले में भी मुंबई पुलिस लगातार एक्ट्रेस को समन कर रही है। इसी मामले में कोर्ट की ओर से कंगना के खिलाफ वारंट भी जारी हुआ है।

यह भी पढ़ें :   पंजाब कांग्रेस का प्रधान बदलने के बाद अब कैप्टन मंत्रिमंडल में फेरबदल की तैयारी!
यह भी पढ़ें :   अब हरियाणा के डिप्टी CM कोरोना संक्रमित, खुद को किया होम आइसोलेट

इससे पहले कंगना ने शुक्रवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर विवादित टिप्पणी की थी। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए कहा था कि बापू के बच्चों ने उन पर बुरे अभिभावक होने का आरोप लगाया था। इस बात का जिक्र कई जगह मिलता है कि उन्होंने अपनी पत्नी को घर से इसलिए बाहर कर दिया था, क्योंकि उन्होंने शौचालय साफ करने से इंकार कर दिया था। वे एक महान लीडर थे, लेकिन शायद एक महान पति नहीं थे, मगर जब पुरुष की बात हो, तो दुनिया माफ कर देती है।

यह भी पढ़ें :   दमदार डायलॉग और अभिनय की अदकारा कंगना रनौत का Happy Birthday

Latest news

प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया महिलाओं का सशक्तिकरण: जय राम ठाकुर

प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की...

स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस द्वारा सरकारी मिडल स्कूल गोचर का दौरा

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी शिक्षा संस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कार्य किए...

भगवंत मान सरकार राज्य के लोगों को पीने वाला साफ़-सुथरा पानी और साफ़-सफ़ाई की सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार लोगों को साफ़-सुथरा पीने वाला पानी और सेनिटेशन की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध...

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

Related news

यह भी पढ़ें :   कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद दिल्ली में लगा वीकेंड कर्फ्यू, कई और सख्तियां भी

प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया महिलाओं का सशक्तिकरण: जय राम ठाकुर

प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की...

स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस द्वारा सरकारी मिडल स्कूल गोचर का दौरा

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी शिक्षा संस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कार्य किए...

भगवंत मान सरकार राज्य के लोगों को पीने वाला साफ़-सुथरा पानी और साफ़-सफ़ाई की सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार लोगों को साफ़-सुथरा पीने वाला पानी और सेनिटेशन की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध...

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...