Saturday, October 23, 2021

इन 6 प्रमुख मांगों के साथ सरकार के सामने किसान, अंतिम फैसले पर टिकी निगाहें

कृषि कानून को वापस लेने की डिमांड पर किसान अड़े हुए हैं. गुरुवार को केंद्र सरकार और किसानों की बातचीत का एक और दौर जारी है. ऐसे में किसानों की ओर से लिखित में सरकार के सामने अपनी मांगों को रखा गया है, जिनपर वो किसी भी तरह लिखित में गारंटी चाहते हैं. पिछले एक हफ्ते से दिल्ली की सड़कों पर जारी आंदोलन को खत्म करने को लेकर सरकार लगातार किसानों को मनाने में जुटी है.

किसान संगठनों की ये हैं मांगें…

• तीनों कृषि कानूनों को तुरंत वापस लिया जाए.
• किसानों के लिए MSP को कानूनी बनाया जाए.
• MSP को फिक्स करने के लिए स्वामीनाथन फॉर्मूले को लागू किया जाए.
• NCR रीजन में वायु प्रदूषण एक्ट में बदलाव को वापस लिया जाए.
• खेती के लिए डीजल के दामों में 50 फीसदी की कटौती हो.
• देशभर में किसान नेता, कवियों, वकीलों और अन्य एक्टिविस्ट पर जो केस हैं, वो वापस लिए जाएं.

यह भी पढ़ें :   हरियाणा के मुद्दों पर CM मनोहर की अमित शाह से मुलाकात

गौरतलब है कि किसानों और सरकार के बीच अबतक तीन दौर की बात हो चुकी है. एक दिसंबर को आखिरी बार किसान और सरकार एक ही टेबल पर थे, लेकिन चर्चा पूरी नहीं हुई थी. ऐसे में अब किसानों ने अपनी मांगों को लिखित में दिया है और पूरी गारंटी चाहते हैं. किसानों की ओर से कहा गया है कि अगर आज की बैठक में कोई हल नहीं निकलता है, तो किसानों का आंदोलन आक्रामक होगा और उसका अंत क्या होगा, कोई नहीं जानता है.

यह भी पढ़ें :   सिद्धू ने फिर ट्वीट के जरिये कैप्टन अमरिंदर सिंह और अपने विरोधियों को दिया जवाब
यह भी पढ़ें :   बिहार चुनावों को लेकर माहौल गरम

किसानों के साथ बातचीत से पहले कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर का कहना है कि आज किसानों से चौथे दौर की चर्चा हो रही है, उन्हें उम्मीद है कि सकारात्मक नतीजा निकलेगा. आज चर्चा में क्या रास्ता निकलता है, वो कुछ देर में साफ हो जाएगा.

किसानों के साथ चर्चा से पहले कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर, पीयूष गोयल ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की और किसानों की मांग के बारे में अवगत कराया. माना जा रहा है कि सरकार MSP पर किसानों को कोई ठोस भरोसा दे सकती है. दूसरी ओर आज अमित शाह ने पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर से मुलाकात की, जिसमें किसानों के आंदोलन पर कोई निर्णय हो सकता है.

यह भी पढ़ें :   एक बार फिर इटली में नीलाम हो रहा चंडीगढ़ का हेरिटेज फर्नीचर

Latest news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

यह भी पढ़ें :   17 शहरों की 217 जगहों में फ्री वाई-फाई की सुविधा देने की जा रही योगी सरकार

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...