Tuesday, August 9, 2022

जंतर-मंतर नहीं बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में किसानों को मिली धरने की परमिशन

कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब से मार्च निकाल रहे किसानों को दिल्ली में प्रवेश की इजाजत मिल गई है. शुक्रवार को बवाल के बाद पुलिस ने किसानों को दिल्ली के बुराड़ी में मौजूद निरंकारी ग्राउंड में प्रदर्शन करने की इजाजत दी गई है. हालांकि, किसान इस दौरान दिल्ली के किसी ओर इलाके में नहीं जा सकेंगे. साथ ही इस दौरान पुलिस किसानों के साथ ही रहेगी.

शुक्रवार को सिंधु बॉर्डर पर किसानों और पुलिस के बीच जमकर बवाल हुआ. किसानों ने पुलिस पर पथराव किया, जिसके बाद पुलिस ने भी वाटर कैनन, आंसू गैस के गोले का इस्तेमाल किया. अभी पुलिस की ओर से किसानों के प्रतिनिधियों से बात की जा रही है और सभी को ग्राउंड तक ले जाने की तैयारी हो रही है. पुलिस की एक टीम ने किसान नेताओं के साथ ग्राउंड तक के रास्ते को कवर किया, ताकि किसान उस रूट को फॉलो कर सकें.

यह भी पढ़ें :   अनुराग-तापसी के खिलाफ जांच जारी, डिजिटल डिवाइस का लिया बैकअप; लॉकर्स पर पाबंदी
यह भी पढ़ें :   सुरेश भारद्वाज ने जे.पी. नड्डा से की भेंट

किसान लगातार दिल्ली में घुसने की मांग कर रहे थे और जंतर-मंतर या रामलीला मैदान जाने की अपील कर रहे थे. किसानों का कहना था कि उनके जत्थे में 5 लाख लोग हैं, ऐसे में वो बिना दिल्ली पहुंचे वापस नहीं जाएंगे. किसानों की अपील थी कि वो नियमों का पालन करने के लिए तैयार हैं. यानी अब निरंकारी ग्राउंड में भी मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए किसान प्रदर्शन कर सकेंगे.

हालांकि, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि सरकार ने किसानों को तीन दिसंबर को चर्चा के लिए बुलाया है. केंद्रीय मंत्री ने विपक्ष पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया. पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर ने मांग की थी कि केंद्र को तुरंत ही किसानों से बात करनी चाहिए. किसानों द्वारा बॉर्डर पर जारी प्रदर्शन के कारण दिल्ली-हरियाणा के रास्ते में जाम की स्थिति बनी हुई है. इसके अलावा मेट्रो के कई स्टेशनों को बंद किया गया है.

यह भी पढ़ें :   किसान आंदोलन के सात महीने पूरे, होगी ट्रैक्टर रैली, सरकार अलर्ट

Latest news

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...
यह भी पढ़ें :   कृषि कानूनों के खिलाफ आज रेल रोको आंदोलन, सरकार को घेरने की तैयाररी में किसान

मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लिया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग...

मुख्यमंत्री ने नीति आयोग की मीटिंग में पंजाब की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाये, एम. एस. पी. को कानूनी गारंटी बनाने...

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाते हुए न्यूतनम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) को कानूनी...

“हैंड फुट माउथ” बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं

चंडीगढ़ प्रशासन के निर्देशानुसार “हैंड फुट माउथ” नामक वायरल रोग पाए जाने के उपरांत चंडीगढ़ विद्यालय बंद करने की खबर आई है। “हैंड फुट माउथ”...

Related news

यह भी पढ़ें :   अनुराग-तापसी के खिलाफ जांच जारी, डिजिटल डिवाइस का लिया बैकअप; लॉकर्स पर पाबंदी

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लिया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग...

मुख्यमंत्री ने नीति आयोग की मीटिंग में पंजाब की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाये, एम. एस. पी. को कानूनी गारंटी बनाने...

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाते हुए न्यूतनम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) को कानूनी...

“हैंड फुट माउथ” बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं

चंडीगढ़ प्रशासन के निर्देशानुसार “हैंड फुट माउथ” नामक वायरल रोग पाए जाने के उपरांत चंडीगढ़ विद्यालय बंद करने की खबर आई है। “हैंड फुट माउथ”...