Saturday, October 16, 2021

किसानों को मिला दिल्ली के मुख्यमंत्री का साथ, भारत बंद का समर्थन करेगी AAP

दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है. सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सिंधु बॉर्डर पहुंचे, जहां पर बड़ी संख्या में किसान डटे हुए हैं. अरविंद केजरीवाल ने यहां किसानों के मंगलवार को होने वाले भारत बंद के समर्थन का ऐलान किया.

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम किसानों की हर मांग का समर्थन करते हैं, किसानों का मुद्दा और संघर्ष जायज है. दिल्ली सरकार और हमारी पार्टी किसानों के संघर्ष में साथ है. जब किसान बॉर्डर पर आए थे, तो केंद्र और दिल्ली पुलिस ने हमसे दिल्ली के 9 स्टेडियम जेल बनाने के लिए परमिशन मांगी थी.

यह भी पढ़ें :   दलगत राजनीति से उठकर किसानों के हित में सहयोग दें : जसबीर दास

दिल्ली सीएम बोले कि हमारे ऊपर दबाव बनाया गया, लेकिन हमने कोई परमिशन नहीं दी. हमारी सरकार, पार्टी लगातार सेवादार की तरह किसानों की सेवा करने में लगे हुए हैं. मैं सेवादार के तौर पर आया हूं और किसानों की सेवा करने आया हूं. किसान लगातार मेहनत करके अन्न उगाता है, ऐसे में हमारा फर्ज है कि हम किसानों की सेवा करें.

यह भी पढ़ें :   एंटीलिया केस: NIA के एक्शन से महाराष्ट्र में हलचल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यहां किसानों से मुलाकात की, किसानों के लिए जो इंतजाम किए गए हैं उनका जायजा लिया और हर संभव मदद का भरोसा दिया. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यहां किसानों से मिलने के बाद कहा कि किसानों को जो सेवाएं दी जा रही हैं, हम उसका जायजा लेने आए थे. किसानों का कहना है कि वो देश के लिए बैठे हैं. अगर किसानों को दिक्कत हो रही है तो देश की हर पार्टी को समर्थन करना चाहिए.

यह भी पढ़ें :   आंदोलनकारी किसानों को सीएम मनोहर लाल की नसीहत, जानिए क्या कहा-

आपको बता दें कि इससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन भी सिंधु बॉर्डर गए थे और किसानों से मुलाकात की थी. आम आदमी पार्टी पहले ही ऐलान कर चुकी है कि वो किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का समर्थन करते हैं और आठ दिसंबर को देश में प्रदर्शन करेंगे.

Latest news

यह भी पढ़ें :   किसानों के कोरोना वायरस का टीका लगाने की मांग पर बॉलीवुड डायरेक्टर की खरी-खरी

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...

Related news

यह भी पढ़ें :   हाथरस जा रहे राहुल-प्रियंका को पुलिस ने लौटाया, जमकर हुआ हाई वोल्टेज ड्रामा

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह बरकरार, सिद्धू और रंधावा के बीच अनबन

कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद भी पंजाब कांग्रेस में कलह थम नहीं रही है। अब प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू और नए डिप्टी...

पंजाब में मुख्यमंत्री के बदलाव के साथ ही नौकरशाही में बदलाव शुरू

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने नौकरशाही में बदलाव शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही कर्मचारियों को अब सुबह नौ बजे...

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री की पहली कैबिनेट मीटिंग, निचले वर्ग को मिले कई तोहफे

पंजाब के नए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह की कैबिनेट की पहली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में कोई बड़ा फैसला तो नहीं...