Friday, September 17, 2021

किसान आंदोलन पर अब सामने आये दुष्यंत, प्रदर्शनकारियों को सिखाई मर्यादा

हरियाणा की गठबंधन सरकार में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने किसानों के भारत बंद पर बोलते हुए कहा कि प्रोटेस्ट करने का सबको अधिकार है लेकिन किसी को सीमा नही लांघनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कुछ लोग अध्यादेशों के नाम पर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं जबकि उनकी अपनी कांग्रेस की सरकार में 7 साल पहले इन्होंने मुख्यमंत्रियों की एक कमेटी बनाई थी.

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि केंद्र सरकार ने अभी हाल ही में फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी MSP को बढ़ाया है ऐसे में किसानों को चिंतित होने की जरूरत नहीं है. केंद्र और राज्य सरकार मिलकर सुनिश्चित कर रही है कि किसानों को उनको फसलों पर MSP मिले और अगर MSP पर कोई दिक्कत आयी तो मैं अपने पद से इस्तीफा भी दे दूंगा.

यह भी पढ़ें :   कांग्रेस विधायक पर बिजली विभाग की मेहरबानी, महीनों से मीटर रीडिंग ZERO

अभय चौटाला द्वारा दिए गए बयान की अगर दुष्यंत और रंजीत में देवीलाल का खून है तो वे इस्तीफा क्यों नहीं देते पर दुष्यंत ने कहा आप अभय चौटाला को सीरियस पॉलिटिशियन मानते हो. साथ ही उन्होंने कहा कि चौधरी देवी लाल का खून है तभी तो एश्योर कर रहे हैं की एमएसपी पर एक एक दाना ख़रीदेंगे. अगर ऐसा नहीं कर पाएंगे तो उससे पहले इस्तीफा देंगे. साथ ही उन्होंने बताया कि 25 सितंबर को पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल के 107 जन्मदिवस पर हर जिले में त्रिवेणी लगाकर 108 ब्लड यूनिट इक्कठी की जाएगी.

यह भी पढ़ें :   पति की मारपीट से तंग आकर महिला लेफ्टिनेंट ने की खुदकुशी
यह भी पढ़ें :   राकेश टिकैत बोले, चर्चा के लिए तैयार, लेकिन दबाव में नहीं करेंगे बातचीत

बता दें कि इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने भाजपा सरकार में साझीदार अपने चाचा रणजीत सिंह चौटाला और भतीजे दुष्यंत सिंह चौटाला को खुली चुनौती दी है. केंद्र सरकार के तीन कृषि विधेयकों को आधार बनाकर अभय चौटाला ने दोनों पर हमला किया. उन्‍होंने कहा कि यदि रणजीत सिंह और दुष्यंत की रगों में ताऊ देवीलाल का खून बह रहा है तो उन्हें सत्ता को ठोकर मारकर किसानों के बीच उनके अस्तित्व की लड़ाई लड़नी चाहिए.

यह भी पढ़ें :   हिमाचल का बेटा कश्मीर में शहीद, नम हुई परिजनों की आंखें

Latest news

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...

Related news

यह भी पढ़ें :   किसानों के भारत बंद को मिला 11 विपक्षी दलों का समर्थन, शुरू हुई राजनीति

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिअद और बसपा के बीच 4 सीटों पर हुई अदला-बदली

शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने पंजाब विधानसभा 2022 के लिए चार सीटों पर हिस्‍सेदारी में बदलाव किया है। शिअद- बसपा गठबंधन...

आयकर से जुड़े मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को आयकर से जुड़े मामले में बड़ी राहत मिली है। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने कैप्‍टन के...

एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल, शुद्ध करेगी चंडीगढ़ की हवा

चंडीगढ़ शहर के ट्रांसपोर्ट चौक पर तैयार किए गए एयर प्यूरीफिकेशन टावर की दुनिया कायल हो गई है। कई शहरों में अब ऐसे ही...

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं? महाराष्ट्र सरकार करेगी फैसला !

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी बनेगी या नहीं, इसका फैसला जयराम सरकार महाराष्ट्र सरकार से मांगी गई जानकारी आने के बाद करेगी। प्रदेश...