Wednesday, January 19, 2022

किसान आंदोलन पर अब सामने आये दुष्यंत, प्रदर्शनकारियों को सिखाई मर्यादा

हरियाणा की गठबंधन सरकार में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने किसानों के भारत बंद पर बोलते हुए कहा कि प्रोटेस्ट करने का सबको अधिकार है लेकिन किसी को सीमा नही लांघनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कुछ लोग अध्यादेशों के नाम पर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं जबकि उनकी अपनी कांग्रेस की सरकार में 7 साल पहले इन्होंने मुख्यमंत्रियों की एक कमेटी बनाई थी.

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि केंद्र सरकार ने अभी हाल ही में फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी MSP को बढ़ाया है ऐसे में किसानों को चिंतित होने की जरूरत नहीं है. केंद्र और राज्य सरकार मिलकर सुनिश्चित कर रही है कि किसानों को उनको फसलों पर MSP मिले और अगर MSP पर कोई दिक्कत आयी तो मैं अपने पद से इस्तीफा भी दे दूंगा.

यह भी पढ़ें :   राम रहीम से मिलने के लिए हनीप्रीत ने खुद को अटेंडेंट बताते हुए बनवाया कार्ड

अभय चौटाला द्वारा दिए गए बयान की अगर दुष्यंत और रंजीत में देवीलाल का खून है तो वे इस्तीफा क्यों नहीं देते पर दुष्यंत ने कहा आप अभय चौटाला को सीरियस पॉलिटिशियन मानते हो. साथ ही उन्होंने कहा कि चौधरी देवी लाल का खून है तभी तो एश्योर कर रहे हैं की एमएसपी पर एक एक दाना ख़रीदेंगे. अगर ऐसा नहीं कर पाएंगे तो उससे पहले इस्तीफा देंगे. साथ ही उन्होंने बताया कि 25 सितंबर को पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल के 107 जन्मदिवस पर हर जिले में त्रिवेणी लगाकर 108 ब्लड यूनिट इक्कठी की जाएगी.

यह भी पढ़ें :   BAFTA 2021: The White Tiger के लिए नॉमिनेशंस की रेस में प्रियंका चोपड़ा और आदर्श गौरव
यह भी पढ़ें :   पंजाब हरियाणा सीमा पर किसानों का प्रदर्शन

बता दें कि इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने भाजपा सरकार में साझीदार अपने चाचा रणजीत सिंह चौटाला और भतीजे दुष्यंत सिंह चौटाला को खुली चुनौती दी है. केंद्र सरकार के तीन कृषि विधेयकों को आधार बनाकर अभय चौटाला ने दोनों पर हमला किया. उन्‍होंने कहा कि यदि रणजीत सिंह और दुष्यंत की रगों में ताऊ देवीलाल का खून बह रहा है तो उन्हें सत्ता को ठोकर मारकर किसानों के बीच उनके अस्तित्व की लड़ाई लड़नी चाहिए.

यह भी पढ़ें :   टोक्यो ओलिंपिक में महिला हॉकी में भारतीय टीम की लगातार दूसरी हार, जानिए कैसा है अब तक का हाल

Latest news

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों...

भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम : राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम है। अगर किसी देश...

मंडी की जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब किया अपने नाम

मंडी जिला से सबंध रखने वाली जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब अपने नाम कर हिमाचल और मंडी का नाम रोशन किया...

प्रदूषण का असर : गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद

हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे। एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से बचाव के लिए...

Related news

यह भी पढ़ें :   अभिषेक और अमिताभ के बाद अब जया बच्चन भी डिजिटल डेब्यू के लिए तैयार

कल लगेगा 580 सालों बाद साल 2021 का अंतिम और सबसे लम्बा चंद्र ग्रहण

साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण देश के कई हिस्सों में शुक्रवार यानी 19 नवंबर को देखा जाएगा। भारत समेत दुनिया के कई देशों...

भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम : राजनाथ सिंह

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारतीय सेना देश की हर एक इंच जमीन की रक्षा करने में सक्षम है। अगर किसी देश...

मंडी की जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब किया अपने नाम

मंडी जिला से सबंध रखने वाली जोई ठाकुर ने मिस हिमालय 2021 का खिताब अपने नाम कर हिमाचल और मंडी का नाम रोशन किया...

प्रदूषण का असर : गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद

हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर व सोनीपत में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे। एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण से बचाव के लिए...