Monday, November 28, 2022

मुख्यमंत्री ने जंजैहली में किए 29 करोड़ रुपये के 14 विकासात्मक परियोजनाओं के उदघाटन एवं शिलान्यास

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज सराज विधानसभा क्षेत्र के जंजैहली में लगभग 29 करोड़ रुपये की 14 विकासात्मक परियोजनाओं के उदघाटन एवं शिलान्यास किए।

उन्होंने 10.78 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जंजैहली के भवन, जंजैहली में ही 4.12 करोड़ रुपये से बने लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह, 5.99 करोड़ रुपये के इंडोर स्टेडियम, बागाचनोगी में 50 लाख रुपये के राजकीय सेरीकल्चर सेंटर, भुलाह में 1.20 करोड़ रुपये से बने जैव विविधता पार्क और शैटाधार में एक करोड़ रुपये के इंटरप्रटेशन सेंटर का लोकार्पण किया। उन्होंने जंजैहली में नए वन मंडल (वन्य जीव) और लोक निर्माण विभाग के वृत कार्यालय, नवस्तरोन्नत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला शोधाधार, राजकीय माध्यमिक पाठशाला तुंगधार, राजकीय माध्यमिक पाठशाला भलवाड़ और लंबाथाच में 5000 लीटर क्षमता के मिल्क कूलर का शुभारंभ भी किया। मुख्यमंत्री ने खोडाथाच में 1.75 करोड़ रुपये और खौली में 3.49 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले नेचर पार्कों के शिलान्यास भी किए।

इसके बाद डीमकटारू में महिला सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने गत लगभग पांच वर्षों के दौरान हमेशा गरीब को करीब रखकर ही काम किया है। सत्ता संभालने के पहले दिन से ही सरकार ने गरीबों, कमजोर वर्गों और महिलाओं सहित समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिए कार्य करना शुरू कर दिया था। आज प्रदेश में 60 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन दी जा रही है। उन्होंने बताया कि पहले लगभग 4 लाख लोगों को पेंशन मिल रही थी, जबकि आज 7.50 लाख से अधिक पात्र लोगों को यह पेंशन दी जा रही है।

यह भी पढ़ें :   मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेता श्रिया को बधाई दी
यह भी पढ़ें :   राज्यपाल ने पारम्परिक स्वास्थ्य और कृषि क्षेत्र गतिविधियों को बढ़ावा देने का आह्वान किया

महिलाओं के कल्याण और सशक्तिकरण की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2010 में भाजपा की सरकार ने नगर निकायों तथा पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज इन संस्थाओं में महिलाओं की भागीदारी 50 प्रतिशत से भी ज्यादा हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने महिलाओं द्वारा संचालित स्वयं सहायता समूहों के आर्थिक सशक्तिकरण के 40 हजार रुपये के रिवॉल्विंग फंड की व्यवस्था की है। मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में महिलाओं को 35 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। गृहिणी सुविधा योजना के तहत प्रदेश की लगभग 3.35 लाख महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें :   मुख्यमंत्री ने अन्तरराष्ट्रीय शिवरात्रि मेले का विधिवत् शुभारंभ किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच वर्षों के दौरान प्रदेश सरकार ने हर क्षेत्र का चहुमुखी विकास और समाज के हर वर्ग का कल्याण सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि विकास की इस गति को कायम रखने तथा केंद्र सरकार की मजबूती के लिए हिमाचल प्रदेश में दोबारा भाजपा की सरकार बनना जरूरी है। जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में भाजपा फिर सत्ता में आएगी और इसमें महिलाओं की भूमिका निर्णायक होगी। उन्होंने कहा कि विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के कारण प्रदेश की महिलाएं भाजपा को भारी समर्थन देंगी।

इस अवसर पर केंद्रीय विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने भी महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आठ वर्ष पहले देश की बागडोर संभालते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि उनकी सरकार गांव, गरीब और आम जन की सरकार होगी, जिसमें सबका साथ और सबका विकास सुनिश्चित होगा। इन आठ वर्षों के दौरान प्रधानमंत्री ने इसे सार्थक साबित किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन के माध्यम से करोड़ों शौचालय बनवाए, जिनका सबसे ज्यादा लाभ महिलाओं को हुआ। मीनाक्षी लेखी ने कहा कि 70 वर्षों के दौरान देश के 8 करोड़ घरों में नल लगाए गए थे, जबकि मोदी सरकार ने जल जीवन मिशन आरंभ करके केवल ढाई वर्षों में ही लगभग 8.64 करोड़ घरों में नल लगवाए। इस मिशन का भी महिलाओं को सबसे ज्यादा लाभ हुआ। उन्होंने कहा कि हिमाचल के चहुमुखी विकास के लिए राज्य और केंद्र में डबल इंजन सरकार जरूरी है।

यह भी पढ़ें :   मेंगलुरू : एक साथी की मौत के बाद, दो दोस्तों ने ‘भगवान के प्रकोप’ से बचने कबूला जुर्म
यह भी पढ़ें :   शोपियां में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में एक आतंकी ढेर

इस अवसर पर भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष रश्मिधर सूद, महामंत्री मांचली ठाकुर, जिला अध्यक्ष सुमन ठाकुर, भाजपा नेत्री खेमदासी और रजनी ठाकुर सहित बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित रहीं।

Latest news

बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए नहीं छोड़ी जाएगी कोई कमी: डा. बलजीत कौर

सामाजिक सुरक्षा और महिला व बाल विकास मंत्री पंजाब डा. बलजीत कौर ने कहा कि विभाग की ओर से बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण...

मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में गन कल्चर पर सख़्ती से नकेल कसने के निर्देश

गन कल्चर पर रोक लगाने और राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को कायम रखने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब...
यह भी पढ़ें :   गुजरात में Cyclone Tauktae की दस्तक से पहले सुरक्षित स्थानों पर भेजे गए हजारों लोग

जी-20 नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए बाली की यात्रा से पहले प्रधानमंत्री का प्रस्थान वक्तव्य

इंडोनेशिया की अध्यक्षता में होने वाले 17वें जी20 नेताओं के शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए मैं 14-16 नवंबर 2022 को बाली, इंडोनेशिया...

ईंटों के भठ्ठों के लिए ईंधन के रूप में पराली को 20 प्रतिशत इस्तेमाल करने को किया अनिवार्य

धान की पराली के प्रबंधन में निरंतर प्रयास कर रही राज्य सरकार द्वारा इस दिशा में अहम कदम उठाते हुए राज्य भर में ईंटों...

Related news

बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए नहीं छोड़ी जाएगी कोई कमी: डा. बलजीत कौर

सामाजिक सुरक्षा और महिला व बाल विकास मंत्री पंजाब डा. बलजीत कौर ने कहा कि विभाग की ओर से बच्चों व महिलाओं के सर्वांगीण...

मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में गन कल्चर पर सख़्ती से नकेल कसने के निर्देश

गन कल्चर पर रोक लगाने और राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को कायम रखने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब...

जी-20 नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए बाली की यात्रा से पहले प्रधानमंत्री का प्रस्थान वक्तव्य

इंडोनेशिया की अध्यक्षता में होने वाले 17वें जी20 नेताओं के शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए मैं 14-16 नवंबर 2022 को बाली, इंडोनेशिया...

ईंटों के भठ्ठों के लिए ईंधन के रूप में पराली को 20 प्रतिशत इस्तेमाल करने को किया अनिवार्य

धान की पराली के प्रबंधन में निरंतर प्रयास कर रही राज्य सरकार द्वारा इस दिशा में अहम कदम उठाते हुए राज्य भर में ईंटों...