Saturday, July 24, 2021

AIIMS के सवालों के बाद अब सुशांत केस में जुड़ सकती है धारा-302

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई अब इस केस में आईपीसी (मर्डर) की धारा 302 को जोड़ने पर विचार कर रही है। एम्स की टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट सबमिट कर दी है, जिसके बाद सीबीआई केस के दूसरे चरण की जांच शुरू करने वाली है। इसके अलावा सुशांत के मैनेजर रहे सिद्धार्थ पिठानी के भी सरकारी गवाह बनने की संभावना है।

कूपर हॉस्पिटल में जल्दबाजी में किए सुशांत के पोस्टमॉर्टम पर एम्स की टीम ने 3 बड़े सवाल उठाए हैं। डॉ. सुधीर गुप्ता के अनुसार-

यह भी पढ़ें :   ब्लैक फंगस के बढ़ते नए मामलों के बीच AIIMS के डॉक्टर का दावा

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सुशांत की मौत का समय नहीं लिखा गया।

सुशांत का पोस्टमॉर्टम शाम के समय और धीमी रोशनी में किया गया।

उनके विसरा रिपोर्ट में ड्रग्स की जांच से जुड़ा कोई तथ्य नहीं है।

इसके अलावा पहले यह खबर भी सामने आई थी कि विसरा को सही ढंग से सुरक्षित नहीं किया था, जिसके कारण एम्स की टीम को जांच में परेशानी आई।

यह भी पढ़ें :   सुशांत मौत मामले में AIIMS की कार्रवाई से वकील विकास सिंह में नाराजगी

एक चश्मदीद ने दावा किया है कि सुशांत की मौत से ठीक एक दिन पहले यानी 13 जून को रिया उनसे (सुशांत से) मिली थीं। यह कहना है विवेकानंद गुप्ता का। चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि रिया 13 जून की रात 2 से 3 बजे के आसपास सुशांत से मिली थी। बाद में सुशांत उसे घर छोड़ने भी गए थे। ऐसे में रिया का यह कहना कि उसने सुशांत का घर 8 जून को छोड़ दिया था, पूरी तरह झूठ है। हालांकि, इस बात की पक्की जानकारी भी पिठानी के ही पास है, क्योंकि सुशांत की मौत से एक दिन पहले उनके घर आने वाले लोगों के बारे में पिठानी ही जानता है।

यह भी पढ़ें :   सुशांत की बहनों पर रिया के लगाए आरोप काल्पनिक : सीबीआई

एक निजी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार सिद्धार्थ पिठानी सीबीआई की निगरानी में है। अधिकारियों का कहना है कि वह सरकारी गवाह बन सकता है। उससे कई बार पूछताछ और बयान रिकॉर्ड किया जा चुका है। अगली पूछताछ के लिए वह दिल्ली जा सकता है। सिद्धार्थ के अलावा कुक नीरज भी गवाह बन सकता है।

Latest news

यह भी पढ़ें :   ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के खिलाफ दर्ज हुआ Child Abusing का मामला

Video Viral : हरियाणा के खेतों में अचानक 10 फीट ऊपर उठ गई जमीन!

हरियाणा में विचित्र घटनाक्रम देखने को मिला। इस घटनाक्रम की वीडियो वायरल हो रही है। दूर-दूर तक इसकी चर्चा है। अचानक जमीन उठने की...

किसानी प्रदर्शन का उद्योगों पर असर, CM के आदेश पर अब सख्ती करेगी हरियाणा पुलिस

कृषि कानूनों के विरोध में टीकरी बार्डर पर लंबे समय से चल रहे किसान संगठनों के धरनों से उद्योग और व्यापार चौपट हो गए...

हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट की पेश

16 मई को हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश कर दी है।...

पेगासस जासूसी मामला : चंडीगढ़ में हरियाणा कांग्रेस ने निकाला रोष मार्च तो पहुंचे थाने

पेगासस जासूसी मामले में हरियाणा कांग्रेस ने विरोध मार्च निकाला। कांग्रेस मुख्यालय से राजभवन की तरफ जा रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने सेक्टर...

Related news

यह भी पढ़ें :   हरियाणा में नंबरदारों के लिए खुशखबरी, अब नहीं खत्म होंगे पद

Video Viral : हरियाणा के खेतों में अचानक 10 फीट ऊपर उठ गई जमीन!

हरियाणा में विचित्र घटनाक्रम देखने को मिला। इस घटनाक्रम की वीडियो वायरल हो रही है। दूर-दूर तक इसकी चर्चा है। अचानक जमीन उठने की...

किसानी प्रदर्शन का उद्योगों पर असर, CM के आदेश पर अब सख्ती करेगी हरियाणा पुलिस

कृषि कानूनों के विरोध में टीकरी बार्डर पर लंबे समय से चल रहे किसान संगठनों के धरनों से उद्योग और व्यापार चौपट हो गए...

हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट की पेश

16 मई को हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसा मामले में पुलिस ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश कर दी है।...

पेगासस जासूसी मामला : चंडीगढ़ में हरियाणा कांग्रेस ने निकाला रोष मार्च तो पहुंचे थाने

पेगासस जासूसी मामले में हरियाणा कांग्रेस ने विरोध मार्च निकाला। कांग्रेस मुख्यालय से राजभवन की तरफ जा रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने सेक्टर...