Tuesday, August 9, 2022

AIIMS के सवालों के बाद अब सुशांत केस में जुड़ सकती है धारा-302

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई अब इस केस में आईपीसी (मर्डर) की धारा 302 को जोड़ने पर विचार कर रही है। एम्स की टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट सबमिट कर दी है, जिसके बाद सीबीआई केस के दूसरे चरण की जांच शुरू करने वाली है। इसके अलावा सुशांत के मैनेजर रहे सिद्धार्थ पिठानी के भी सरकारी गवाह बनने की संभावना है।

कूपर हॉस्पिटल में जल्दबाजी में किए सुशांत के पोस्टमॉर्टम पर एम्स की टीम ने 3 बड़े सवाल उठाए हैं। डॉ. सुधीर गुप्ता के अनुसार-

यह भी पढ़ें :   MLA सिमरजीत बैंस समेत 7 लोगों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला हुआ दर्ज

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सुशांत की मौत का समय नहीं लिखा गया।

सुशांत का पोस्टमॉर्टम शाम के समय और धीमी रोशनी में किया गया।

उनके विसरा रिपोर्ट में ड्रग्स की जांच से जुड़ा कोई तथ्य नहीं है।

इसके अलावा पहले यह खबर भी सामने आई थी कि विसरा को सही ढंग से सुरक्षित नहीं किया था, जिसके कारण एम्स की टीम को जांच में परेशानी आई।

यह भी पढ़ें :   आखिरकार एक दूसरे के हुए नेहा कक्कड़ और रोहनप्रीत सिंह, दिल्ली में की शादी

एक चश्मदीद ने दावा किया है कि सुशांत की मौत से ठीक एक दिन पहले यानी 13 जून को रिया उनसे (सुशांत से) मिली थीं। यह कहना है विवेकानंद गुप्ता का। चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि रिया 13 जून की रात 2 से 3 बजे के आसपास सुशांत से मिली थी। बाद में सुशांत उसे घर छोड़ने भी गए थे। ऐसे में रिया का यह कहना कि उसने सुशांत का घर 8 जून को छोड़ दिया था, पूरी तरह झूठ है। हालांकि, इस बात की पक्की जानकारी भी पिठानी के ही पास है, क्योंकि सुशांत की मौत से एक दिन पहले उनके घर आने वाले लोगों के बारे में पिठानी ही जानता है।

यह भी पढ़ें :   सात साल में छह राज्यों में कांग्रेस से छीनी विपक्ष की कुर्सी, 2014 से लगातार मिल रही हार

एक निजी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार सिद्धार्थ पिठानी सीबीआई की निगरानी में है। अधिकारियों का कहना है कि वह सरकारी गवाह बन सकता है। उससे कई बार पूछताछ और बयान रिकॉर्ड किया जा चुका है। अगली पूछताछ के लिए वह दिल्ली जा सकता है। सिद्धार्थ के अलावा कुक नीरज भी गवाह बन सकता है।

Latest news

यह भी पढ़ें :   भगवंत मान ने उद्योग को बढ़ावा देने के लिए अनुकूल माहौल सृजन करने का दिया आश्वासन

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लिया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग...

मुख्यमंत्री ने नीति आयोग की मीटिंग में पंजाब की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाये, एम. एस. पी. को कानूनी गारंटी बनाने...

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाते हुए न्यूतनम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) को कानूनी...

“हैंड फुट माउथ” बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं

चंडीगढ़ प्रशासन के निर्देशानुसार “हैंड फुट माउथ” नामक वायरल रोग पाए जाने के उपरांत चंडीगढ़ विद्यालय बंद करने की खबर आई है।
यह भी पढ़ें :   अफवाह निकली अंडर वर्ल्ड डॉन छोटा राजन की मौत की खबर, एम्स ने की पुष्टि
“हैंड फुट माउथ”...

Related news

गरम ख्यालियों द्वारा 15 अगस्त को केसरी झंडे लगाने के आह्वान पर वड़िंग ने पंजाब में शांतिपूर्ण माहौल बिगड़ने को लेकर दी चेतावनी

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कट्टरपंथी नेतृत्व के एक वर्ग द्वारा राज्य में शांतिपूर्ण माहौल बिगाड़े जाने की कोशिश को लेकर...

मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लिया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग...

मुख्यमंत्री ने नीति आयोग की मीटिंग में पंजाब की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाये, एम. एस. पी. को कानूनी गारंटी बनाने...

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की किसानी से जुड़े मसले ज़ोरदार ढंग से उठाते हुए न्यूतनम समर्थन मूल्य (एम.एस.पी.) को कानूनी...

“हैंड फुट माउथ” बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं

चंडीगढ़ प्रशासन के निर्देशानुसार “हैंड फुट माउथ” नामक वायरल रोग पाए जाने के उपरांत चंडीगढ़ विद्यालय बंद करने की खबर आई है। “हैंड फुट माउथ”...