Friday, October 22, 2021

बल्लभगढ़ हत्याकांड : सामने आया आरोपियों का चेहरा, परिवार ने की यूपी जैसे इंसाफ की मांफ

हरियाणा के बल्लभगढ़ में सरेआम छात्रा की हत्या के मामले में फरीदाबाद-मथुरा हाईवे पर धरने पर बैठा परिवार हट गया है. हाइवे पर जाम खत्म हो गया है. वहीं निकिता का शव शमशान घाट ले जाया गया जहां, उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

इससे पहले कार्रवाई की मांग करते हुए पीड़ित परिवार सड़क पर बैठ गया था. परिवार ने दिल्ली-मथुरा हाईवे को जाम कर दिया था. फिलहाल इस वारदात को लेकर लोगों में जबरदस्त गुस्सा है. पुलिस ने भले ही मुख्य आरोपी तौसिफ समेत दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन लोगों की नाराजगी बनी हुई है.

परिवार का कहना था कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हैं कि अगर यूपी में अपराधियों का एनकाउंटर हो सकता है तो हरियाणा में क्यों नहीं हो सकता है. हमें यूपी जैसा न्याय चाहिए. हम हमेशा बीजेपी के साथ खड़े रहे हैं, लेकिन आज हमारे साथ कोई नहीं है. न तो बीजेपी वाले आएं और न ही कांग्रेस या बीएसपी वाले.

यह भी पढ़ें :   नोएडा में फिल्म सिटी को मंजूरी के साथ शुरू हुआ विवाद, सीएम योगी ने दिया जवाब

निकिता के परिवार का कहना है कि यह लड़का कई साल से निकिता को तंग कर रहा था. हमने 2018 में एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी लड़के को गिरफ्तार कर लिया था. इसके बाद लड़के के परिवारवालों ने हाथ-पैर जोड़ लिए. हमने भी सोचा और मामला वापस ले लिया. उसके बाद कोई दिक्कत नहीं थी.

यह भी पढ़ें :   अक्षय कुमार के ट्वीट पर पंजाबी सिंगर्स का रिएक्शन, खफा दिखा अंदाज़

निकिता के परिवार का कहना है कि तौसीफ कुछ दिनों से लड़की पर शादी का दबाव बना रहा था. सोमवार शाम को लड़की पेपर देकर बाहर निकल रही थी. तौसीफ आया और जबरदस्ती गाड़ी में खींचने लगा. जब लड़की नहीं मानी तो उसने गोली मार दी. न तो लड़की, न परिवार और न कोई और, शादी के पक्ष में था.

यह भी पढ़ें :   रेवाड़ी-नारनौल ट्रैक पर पटरी से उतरी मालगाड़ी, 90 में से 50 कंटेनर पलटे

फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने कहा कि यह एक जघन्य अपराध है, जिसके लिए एसआईटी गठित कर दी गई है और राजपत्रित स्तर के अधिकारी इसकी जांच करेंगे. उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा साक्ष्य जुटाकर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाए जाने की कोशिश रहेगी. इस मामले में सभी लोग संयम बनाए रखे.

बताया जा रहा है कि तौसीफ के दादा कबीर अहमद, विधायक रह चुके हैं. तौसीफ के चचेरा भाई आफताब अहमद, इस समय मेवात जिले की नूंह सीट से कांग्रेस विधायक हैं. आफताब अहमद के पिता खुर्शीद अहमद, हरियाणा के पूर्व मंत्री रह चुके हैं. तौसीफ के सगे चाचा जावेद अहमद इस बार सोहना विधानसभा से बसपा की टिकट पर चुनाव लड़े और हार गए थे.

यह भी पढ़ें :   एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी मुश्किलों में, पति के सपोर्ट में कहा- पोर्नोग्राफिक नहीं बल्कि बनाते हैं इरोटिक फिल्में

Latest news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

यह भी पढ़ें :   महारानी के पति होने के बावजूद कभी राजा नहीं बन पाए प्रिंस फिलिप

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...