Friday, October 22, 2021

CORONA संकट के बीच पाकिस्तान से आ रही मुसीबत से घुटेगा दिल्ली का दम !

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली का वायु प्रदूषण भी तेजी से बढ़ रहा है। सर्दियों की दस्तक अभी हुई भी नहीं है और इसमें 18 फीसद का इजाफा हो गया है। जिस रफ्तार से पंजाब और पाकिस्तान के सीमावर्ती इलाकों में पराली जलाने की घटनाएं बढ़ रही हैं, उस हिसाब इसी सप्ताहांत में दिल्ली का एयर इंडेक्स भी मध्यम से खराब श्रेणी में पहुंचने की संभावनाएं प्रबल हो गई हैं। ऐसे में लोगों का सांस लेना तक दूभर हो जाएगा।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी), दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) औैर मौसम विभाग के दिल्ली में स्थापित करीब 35 वायु गुणवत्ता निगरानी संयंत्रों के माह भर के आंकड़ों का जो विश्लेषण सामने आया है, वह चौंकाने वाला है। इस विश्लेषण के मुताबिक सितंबर 2019 में पीएम 2.5 का औैसत स्तर 40 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया था, जबकि सितंबर 2020 में यह 47 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज हुआ है।

यह भी पढ़ें :   भारत में शुरू हुआ कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण, जानिए पीएम मोदी की सलाह

इसी तरह नासा की सैटेलाइट इमेज के अनुसार सितंबर 2019 के मुकाबले सितंबर 2020 में पंजाब में पराली जलाने की घटनाएं दोगुनी हो गई हैं। पाकिस्तान के सीमावर्ती इलाकों में भी पराली जलाने की काफी घटनाएं सैटेलाइट इमेज में सामने आ रही हैं। पर्यावरण विशेषज्ञों की मानें तो इस स्थिति के पीछे पराली जलाने की घटनाओं में इजाफा तो है ही, इस वर्ष सितंबर में 83 फीसद तक कम बारिश होना भी है। चिंता की बात यह भी है कि हवा की दिशा अब उत्तरी और उत्तर-पश्चिमी होने लगी है। इस हवा के साथ पराली का धुआं दिल्ली पहुंचने लगेगा। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि इसी सप्ताहांत में दिल्ली का एयर इंडेक्स 200 का आंकड़ा पार कर खराब श्रेणी में पहुंच सकता है।

यह भी पढ़ें :   6155 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास करेंगे नितिन गडकरी
यह भी पढ़ें :   पाकिस्तान को भी कोरोना की वैक्सीन दे सकता है भारत!

प्रो. एसएन त्रिपाठी विभागाध्यक्ष, सिविल इंजीनियरिंग विभाग, आइआइटी कानपुर का कहना है कि सितंबर में ही दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण का बढ़ना खतरे का संकेत है। 15 अक्टूबर के बाद जब हवा की दिशा पूर्णतया बदल जाएगी और पंजाब-हरियाणा में पराली भी ज्यादा जलने लगेगी तो स्थिति विकट हो जाएगी। कोरोना संक्रमण के बीच प्रदूषण का बढ़ना मृत्यु दर में इजाफे की वजह भी बन सकता है। इसलिए इसकी रोकथाम के लिए गंभीरता से प्रयास करने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें :   सिंधु बॉर्डर से हिलने को तैयार नहीं किसान, यहीं तैयार होगी रणनीति

Latest news

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...

Related news

यह भी पढ़ें :   वैक्सीन संकटः दिल्ली में बंद हुआ युवाओं का टीकाकरण

अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर रूस ने बुलाई अहम बैठक, अमेरिका ने आने से किया इंकार

रूस ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। 20 अक्तूबर को होने वाली 'मास्को फार्मेट' वार्ता में भाग लेने के...

जम्मू-कश्मीर : पर्यटन सीजन में सिलेक्टिव कीलिंग ने रोके घाटी में सैलानियों के कदम 

कश्मीर घाटी में टारगेट किलिंग के इनपुट तीन माह पहले से मिल गए थे, लेकिन खुफिया एजेंसियों की इस सूचना पर पुलिस समेत अन्य...

आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने किया कोर्ट का रुख

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग लेकर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की...

पंजाब में सत्ता परिवर्तन के साथ छलका सुनील जाखड़ का दर्द…

सुनील जाखड़ का पहले प्रधानगी पद गया और अब वे मुख्यमंत्री बनते-बनते रह गए। ऐसे में उनका दर्द छलक उठा, जिसके परिणामस्वरूप सुनील जाखड़...