Friday, January 21, 2022

न्यूयॉर्क के फिल्म स्कूल में जाने की चाहत में कंगना ने साइन की थी क्वीन !

एक्ट्रेस कंगना रनौत ने बॉलीवुड में वैसे तो कई बेहतरीन फिल्मों में काम कर लिया है लेकिन फिर भी उनकी क्वीन ना सिर्फ यादगार है बल्कि कई मायनों में कंगना के करियर के लिए भी गेम चेंजर साबित हुई है. सात साल पहले रिलीज हुई क्वीन फिल्म ने साबित कर दिया था कि एक अभिनेत्री भी अपने दम पर बॉलीवुड फिल्म को हिट बना सकती है. लेकिन जिस फिल्म ने इतने कीर्तिमान रचे थे, खुद कंगना कभी उस फिल्म के लिए उत्साहित नहीं थीं.

फिल्म के सात साल पूरे होने पर कंगना ने कई बड़े खुलासे किए हैं. उन्होंने बताया है कि क्वीन उन्होंने सिर्फ पैसों के लिए साइन की थी और उन्हें फिल्म के सफल होने की भी ज्यादा उम्मीद नहीं थी. इस बारे में ट्वीट करते हुए कंगना ने बताया है- दस साल के लंबे स्ट्रगल के बाद ये कहा गया कि मैं अच्छी एक्टिंग करती हूं. लेकिन मेरे कर्ली बाल और आवाज ने मेरे खिलाफ काम किया. मैंने तो क्वीन साइन भी सिर्फ पैसों के लिए की थी. उन पैसों के जरिए मैं न्यूयॉर्क के फिल्म स्कूल में जाना चाहती थी.

यह भी पढ़ें :   ड्रग्स केस में अब अर्जुन रामपाल पर NCB की तलवार, गैब्रिएला से भी होगी पूछताछ
यह भी पढ़ें :   अब हाथरस मामले पर शिवसेना सांसद ने लिया कंगना को आड़े हाथ

कंगना ने आगे कहा है- न्यूयॉर्क में मैंने स्क्रीनराइटिंग पढ़ी थी और 24 साल की उम्र में एक शॉर्ट फिल्म भी बनाई. उस फिल्म की वजह से मुझे हॉलीवुड में मेरा ब्रेक मिल गया. मेरा काम देखने के बाद मुझे एक बड़ी एजेंसी ने हायर कर लिया. मैंने तो अपने एक्टिंग के सारे सपने छोड़ दिए थे. हिंदुस्तान जाने की मेरी हिम्मत ही नहीं थी. कंगना मानती हैं कि ये वो समय था जब वे एक्टिंग में करियर नहीं बनाना चाहती थीं. उनका मन उचट चुका था और वे डायरेक्शन में आना चाहती थीं. लेकिन फिर उनकी फिल्म क्वीन रिलीज हुई और एक बहुत बड़ी हिट साबित हुई.

यह भी पढ़ें :   कंगना सिर्फ सस्ती टीआरपी के लिए ऐसे बयान देती है : गैवी चहल

उस सफलता को लेकर भी कंगना ने खुशी जाहिर की है. वे बताती हैं- जब मैं सबकुछ छोड़ चुकी थी, तब क्वीन रिलीज हुई और मेरी जिंदगी हमेशा के लिए बदल गई. भारतीय सिनेमा भी बदल गया. उस फिल्म के साथ महिला केंद्रित फिल्मों का जन्म हो गया. अब कंगना का ये कहना कि उनकी वजह से महिला केंद्रित फिल्मों का जन्म हुआ, इस पर विवाद भी हो सकता है और कई लोग अलग राय भी पेश कर सकते हैं. खैर ये पहली बार नहीं है जब कंगना की तरफ इतने बड़े दावे किए गए हों. वे तो खुद को टॉम क्रूज से बेहतर एक्शन हीरो भी मानती हैं, ऐसे में उनका ये वाला दावा हैरान नहीं करता है.

यह भी पढ़ें :   नोएडा में फिल्म सिटी को मंजूरी के साथ शुरू हुआ विवाद, सीएम योगी ने दिया जवाब

Latest news

प्रधानमंत्री ने गुजरात के सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आज गुजरात के सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का उद्घाटन किया। इस अवसर पर...

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के 17वें स्थापना दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में आयोजित...

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के 17वें स्थापना दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में आयोजित एक...

मणिपुर के 50वें स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री ने संबोधित किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मणिपुर के 50वें स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को बधाई दी है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने इस गौरवशाली...

हिमाचल प्रदेश और हरियाणा सरकार ने आदि बद्री बांध के निर्माण के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से सरस्वती नदी का होगा कायाकल्प 215.35 करोड़ | हरियाणा के यमुनानगर जिले के आदि बद्री क्षेत्र के समीप...

Related news

यह भी पढ़ें :   जल्द पकिस्तान को देना होगा एफएटीएफ का जवाब, आतंकी फंडिंग पर लगानी होगी लगाम

प्रधानमंत्री ने गुजरात के सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आज गुजरात के सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का उद्घाटन किया। इस अवसर पर...

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के 17वें स्थापना दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में आयोजित...

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के 17वें स्थापना दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में आयोजित एक...

मणिपुर के 50वें स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री ने संबोधित किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मणिपुर के 50वें स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को बधाई दी है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने इस गौरवशाली...

हिमाचल प्रदेश और हरियाणा सरकार ने आदि बद्री बांध के निर्माण के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से सरस्वती नदी का होगा कायाकल्प 215.35 करोड़ | हरियाणा के यमुनानगर जिले के आदि बद्री क्षेत्र के समीप...